बगैर पासपोर्ट के भारत आ रही पाकिस्तान मूल की महिला को इमीग्रेशन चेक पोस्ट पर पकड़ा

180

नेपाल से भारत आ रही एक पाकिस्तानी मूल की महिला को भारत-नेपाल सीमा पर भारतीय इमीग्रेसन चेक पोस्ट पर जांच के दौरान रोक लिया गया। महिला वर्तमान में अमेरिका में रह रही है और वहां की नागरिकता हासिल है। वह काठमांडू से दिल्ली जा रही थी।

 यह भी पढ़े : केदारनाथ मार्ग के मध्य भीमबली नामक स्थान में भूस्खलन के कारण युवक की मौत

इमीग्रेशन चेक पोस्ट के प्रभारी इंदर सिंह ने बताया कि शुक्रवार शाम भारत-नेपाल मैत्री बस में पाकिस्तान मूल की एक महिला भारत में आ रही थी। चेकिंग के दौरान उसके पास पासपोर्ट व वीजा नहीं मिला तो पूछताछ की गई। महिला ने ओरिजनल पासपोर्ट की बजाय उसकी छायाप्रति दिखाई। पूछताछ में अपना नाम फरीदा मलिक बताया। फरीदा का कहना है कि वह अपना पासपोर्ट काठमांडू में भूल आई है।

थानाध्यक्ष जसवीर सिंह चौहान के मुताबिक महिला को इमीग्रेशन अधिकारियों ने पुलिस के सुपुर्द किया है। महिला से पूछताछ की जा रही है। फरीदा पाकिस्तान के कराची में 1968 में पैदा हुई और 16 वर्ष बाद वाशिंगटन यूएसए रहने चली गई। जहां 1992 में उसे अमेरिका की नागरिकता मिल गई। फरीदा अच्छी हिंदी बोल रही है और साइबर की भी एक्सपर्ट है। पूछताछ के बाद वैध कागजात उपलब्ध न कराए गए तो उसे या तो वापस काठमांडू भेज दिया जाएगा या विदेशी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

 यह भी पढ़े : जेसन रॉय को वर्ल्ड कप के फाइनल से पहले ICC ने दी ये सजा, अंपायर्स से की थी बहस