Uttarakhand weather Update: उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी, तीन जनपदों में भारी बारिश की चेतावनी

321

उत्तराखंड में बारिश का दौर जारी है। हालांकि गढ़वाल की बजाय कुमाऊं में मानसून ज्यादा मेहरबान है। मौसम विभाग ने आगामी चौबीस घंटे में कुमाऊं के तीन जनपदों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। अन्य स्थानों पर हल्की बारिश का दौर जारी रहेगा।

मानसून कुमाऊं में जमकर बरस रहा है, जबकि गढ़वाल में इसकी रफ्तार सुस्त है। मौसम विभाग के अनुसार अभी गढ़वाल मंडल में अच्छी बारिश की उम्मीद कम है। मंगलवार की रात से बुधवार की सुबह तक देहरादून, मसूरी, उत्तरकाशी सहित गढ़वाल मंडल के कई इलाकों में बारिश होती रही। सुबह बारिश थमी और आसमान में हल्के बादल छाए रहे। कुमाऊं में भी कई इलाकों में रात भर भारिश होती रही।

यह भी पढ़े :   मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को नवम्बर माह तक बढ़ाए जाने के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का आभार व्यक्त किया

मौसम विभाग के मुताबिक हल्की बूंदाबांदी का दौर जारी रहेगा। गुरुवार को कुमाऊं के नैनीताल, पिथौरागढ़ और बागेश्वर में भारी बारिश हो सकती है। इसके लिए चेतावनी भी जारी की गई है। दून समेत गढ़वाल के तमाम इलाकों में बादलों बेरुखी बनी हुई है। उमस से लोग परेशान हैं। हालांकि, कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी का सिलसिला जारी है। दून में पारे में इजाफा हो रहा है और उमस बरकरार है।

उधर, कुमाऊं के पिथौरागढ़ में बारिश के चलते मुसीबत कम नहीं हो रही है। सोमवार देर रात मुनस्यारी के पास एक गांव में मकान ध्वस्त हो गया था। परिवार के लोगों ने भागकर जान बचाई। भूस्खलन के चलते चीन सीमा को जोडऩे वाले लिपुलेख मार्ग समेत 18 मार्ग बंद हैं। वहीं अन्य जिलों में छिटपुट बौछारों के बीच मौसम शांत रहा।

प्रदेश में 23 जून से मानसून सक्रिय हो चुका है। तब से अब तक बागेश्वर में प्रदेश में सर्वाधिक बारिश रिकार्ड की गई। बागेश्वर में 119 मिमी तो पिथौरागढ़ में 108 मिमी बारिश हो चुकी है। वहीं गढ़वाल में सर्वाधिक बारिश रुद्रप्रयाग में रिकार्ड की गई। यहां यह आंकड़ा 82 मिमी रहा। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि कहीं-कहीं हल्की बारिश की संभावना है।

विभिन्न शहरों में तापमान

शहर—————अधिकतम———न्यूनतम

देहरादून————–35.1————-24.3

उत्तरकाशी———–26.8————-17.6

मसूरी—————–23.9————-15.5

टिहरी—————–25.4————-17.0

हरिद्वार————–37.9————-26.4

जोशीमठ————–24.3————-15.2

पिथौरागढ़————28.2————-19.6

अल्मोड़ा————–27.8————-18.4

मुक्तेश्वर————-21.6————-14.5

नैनीताल————–24.2————-17.0