Uttarakhand Weather Today : भारी बारिश की चेतावनी, यमुनोत्री हाईवे दूसरे दिन भी बंद

465

यमुनोत्री हाईवे शनिवार को दूसरे दिन भी कई जगह मलबा आने से बंद पड़ा है। वहीं बदरीनाथ हाईवे पर फिलहाल यातायात सुचारू है। राजधानी देहरादून में बादल छाए हुए हैं। कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी भी हो रही है। टिहरी में शुक्रवार रात से रुक-रुक कर बारिश जारी है।

बड़कोट में यमुनोत्री घाटी में रात से ही रुक-रुक कर बारिश जारी है। यहां बारिश के चलते यमुनोत्री हाईवे जगह-जगह बंद पड़ा हुआ है। हाईवे पर आज खनेड़ा पुल के पास दूसरे दिन भी आवाजाही ठप है।चमोली जिले में बदरीनाथ हाईवे गौचर से माणा तक सुचारू है। जिले में 12 संपर्क मार्ग मलबा और बोल्डर आने से बंद हैं। यहां फिलहाल मौसम साफ है।

चार जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

प्रदेश के कई  जिलों में आज भारी बारिश हो सकती है। इसको देखते हुए मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है। मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार राजधानी देहरादून के साथ ही टिहरी, पौड़ी जिलों में कई स्थानों पर तेज बौछार के साथ भारी बारिश हो सकती है। वहीं, कुछ स्थानों पर आकाशीय बिजली गिरने का भी अनुमान है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि फिलहाल बारिश का क्रम बना रहेगा।

बारिश से आया मलबा, प्रदेश में 235 सड़कें बंद 

पिछले दो तीन दिनों में भारी बारिश के कारण मलबा आने से प्रदेश में 235 सड़कें बंद हो गई हैं। सड़कों को खोलने का कार्य युद्धस्तर पर जारी है, लेकिन बीच बीच में बारिश के कारण व्यवधान पैदा हो रहा है। लोनिवि के विभागाध्यक्ष हरिओम शर्मा के मुताबिक, सभी मार्गों को खोलने के लिए 291 मशीनें लगाई गई हैं।

लोक निर्माण विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक पर्वतीय क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश के कारण पहाड़ों से चट्टान और मलबा सड़कों पर आने की घटनाएं बार-बार हो रही हैं। इससे मार्ग एक स्थान पर खुल रहे हैं तो दूसरे स्थान पर बंद हो जा रहे हैं।

शुक्रवार को एक ही दिन में 147 सड़कें बंद हो गई। 168 सड़कें पहले ही खोली नहीं जा सकी थी। इनमें से 80 सड़कों को ही खोला जा सका। 235 सड़कें अब भी बाधित हैं। इनमें 10 स्टेट हाईवे, नौ जिला मोटर मार्ग, 12 सामान्य जिला मार्ग व 115 ग्रामीण मार्ग हैं।

यह भी पढ़े :  हांगकांग में लोकतंत्र समर्थकों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट से नाराज हुआ US, सख्‍त चेतावनी जारी की