Uttarakhand Coronavirus Update: उत्तरकाशी में 50 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले

908

बुधवार सुबह को उत्तरकाशी में 50 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें आइटीबीपी, सेना और स्थानीय शामिल हैं। अभी तक एक दिन में कोरोना पॉज़िटिव आने वाला सबसे बड़ा आंकड़ा है। चिंतित करने वाली बात यह है कि जो पॉज़िटिव आ रहे हैं उनमें अधिकांश की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। जनपद में कोरोना पॉज़िटिव की संख्या 289 पहुंच चुकी है। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर बैठक बुलाई है।

उत्तरकाशी में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। संक्रमण के मामले उत्तरकाशी जनपद में पौड़ी, चमोली, रुद्रप्रयाग से अधिक पहुंच चुके हैं, जबकि जनसंख्या के आधार पर पौड़ी जनपद की तुलना में उत्तरकाशी की जनसंख्या आधे से कम है। उत्तरकाशी में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 289 पहुंच चुकी है, जबकि पौड़ी में कोरोना के मामले अभी 222 हैं। कोरोना पॉजिटिव में सबसे अधिक चिंतित करने वाली बात यह है कि अब अधिकांश पॉजिटिव मामले ऐसे हैं, जिनकी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है।

यह भी पढ़े :   राम मंदिर पर आखिर कांग्रेस ने तोड़ी चुप्पी, कहा कि भगवान राम में हमारी भी आस्था

उत्‍तराखंड में एक दिन में रिकॉर्ड 309 मरीज हुए स्‍वस्‍थ

उत्तराखंड में कोरोना का ग्राफ दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। मंगलवार को प्रदेश में 208 नए मरीज मिले और कुल आंकड़ा आठ हजार के पार पहुंच गया। इसके बीच राहत देने वाली खबर भी आई। एक दिन में रिकॉर्ड 309 लोग स्वस्थ हुए। इससे पहले आठ जून को एक दिन में 186 मरीज ठीक हुए थे।

राज्य का रिकवरी रेट भी अब 60 फीसद से ऊपर पहुंच गया है। मंगलवार को डिस्चार्ज किए गए मरीजों में 125 हरिद्वार, 99 ऊधमसिंह नगर, 55 देहरादून, 11 उत्तरकाशी, नौ टिहरी, पांच नैनीताल, तीन चंपावत व दो रुद्रप्रयाग से हैं।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार को 3509 सैंपलों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई। जिनमें 3301 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव और 208 की पॉजिटिव आई है। ऊधमसिंह नगर जनपद में सबसे अधिक 63 मामले मिले हैं। इनमें 28 संक्रमितों के संपर्क में आए लोग हैं। 23 की ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं लगी है। पांच लोग फ्लू क्लीनिक में जांच कराने पहुंचे थे।

जबकि अन्य दिल्ली व महाराष्ट्र से लौटे हैं। देहरादून में भी 48 लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। इनमें 31 किसी पूर्व संक्रमित के संपर्क में आए लोग हैं। पिथौरागढ़ में संक्रमित व्यक्ति के संपर्क मे आए 32 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हरिद्वार में भी 23 और मामले मिले हैं। जिनमें 18 संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं। पांच की ट्रेवल हिस्ट्री पता नहीं लगी है। नैनीताल व चंपावत में भी दस-दस नए मामले मिले हैं।

नैनीताल में पांच पूर्व संक्रमित के संपर्क में आए और पांच फ्लू क्लीनिक में जांच कराने पहुंचे लोग हैं। चंपावत में भी छह लोग कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आकर संक्रमित हुए हैं। जबकि एक व्यक्ति चैन्नई से लौटा है। तीन की ट्रेवल हिस्ट्री अभी पता नहीं लगी है। इसके अलावा उत्तरकाशी में आठ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें दो बिहार, एक दक्षिण अफ्रीका व एक महाराष्ट्र से लौटा व्यक्ति है। चार की ट्रेवल हिस्ट्री पता की जा रही है।

पौड़ी में पांच स्वास्थ्य कर्मियों समेत छह लोग संक्रमित मिले हैं। अल्मोड़ा व टिहरी में तीन-तीन और चमोली व रुद्रप्रयाग में एक-एक नया मरीज मिला है। प्रदेश में अब तक कोरोना के 8008 मामले आए हैं। इनमें से 4847 लोग ठीक हो चुके हैं। फिलवक्त 3028 मरीजों का इलाज चल रहा है। इसके अलावा 38 मरीज राज्य से बाहर जा चुके हैं।

उत्तराखंड में दो और कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत

मंगलवार को भी प्रदेश में कोरोना संक्रमित दो मरीजों की मौत हुई। इसके साथ ही यहां कोरोना संक्रमितों की मौत का आंकड़ा 95 हो गया है। देहरादून शहर के लक्खीबाग इलाके की रहने वाली 80 वर्षीय कोरोना संक्रमित बुजुर्ग महिला की मौत हुई है। दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि महिला को इमरजेंसी में मृत अवस्था में लाया गया था। वह पटेलनगर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती थीं और उन्हें श्वास संबंधी दिक्कत थी। कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद महिला को यहां भेजा गया था। इसके अलावा हिमालयन अस्पताल, जौलीग्रांट में भी 37 वर्षीय महिला की मौत हुई है।

फार्मा कंपनी के 15 कर्मचारी संक्रमित

देहरादून जिले पर कोरोना की बड़ी मार पड़ रही है। मंगलवार को भी 48 लोग में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें 15 सेलाकुई की एक फार्मा कंपनी के कर्मचारी हैं, जबकि दो डॉक्टर व एक स्टाफ नर्स भी संक्रमित मिली है। एक व्यापारी नेता के पिता भी कोरोना संक्रमित मिले हैं। सीएमओ डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि फार्मा कंपनी के 15 कर्मचारियों के पॉजिटिव आने पर कंपनी प्रबंधन और पुलिस को संपर्क में आने वालों को चिह्नित कर क्वारंटाइन कराने के लिए कहा गया है।

सेलाकुई में पहले भी एक कंपनी के 22 कर्मचारी पॉजीटिव आ चुके हैं। वहीं, एक अस्पताल के दो चिकित्सक, एक स्टाफ नर्स भी पॉजिटिव आए हैं। दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल मे पहले से भर्ती दो मरीजों की भी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। जबकि एक निजी अस्पताल में भर्ती तीन मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। एम्स ऋषिकेश से भी सात लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है।