यूपी सीएम बोले, अयोध्या पर सुप्रीम का फैसला स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाने वाला फैसला

190

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, अयोध्या में राम मंदिर को लेकर सर्वोच्च न्यायालय का फैसला स्वर्ण अक्षरों में लिखा जाने वाला फैसला है। न्यायालय ने 500 वर्षों के विवाद को सिर्फ 50 मिनट में निपटा दिया।

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ बुधवार को देहरादून पहुंचे। वे हिमालयन इंस्टीट्यूट हॉस्पिटल ट्रस्ट के संस्थापक डॉ. स्वामी राम की 24वीं पुण्यतिथि और महासमाधि दिवस पर यहां पहुंचे थे। कार्यक्रम के बाद उन्होंने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 500 वर्षों के विवाद को 50 मिनट में निपटा देना यह न्यायपालिका और लोकतंत्र के प्रति दुनिया और देश के विश्वास को और पुष्ट करता है। जन भावनाओं के अनुरूप अयोध्या में भगवान श्री राम के मंदिर का भव्य निर्माण होगा। यह शांति और सद्भाव की मिसाल होगा।

यह भी पढ़े :  संचालित जन औषधि केन्द्रों मे वित्तीय अनियमितताओं की जांच के लिए टीम का गठन कर दिया गया है

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हिमालय के प्रखर संत स्वामी राम के समाधि दिवस पर मुझे पिछले वर्ष यहां आना था, लेकिन मैं नहीं आ पाया। इस साल अयोध्या मामले में न्यायालय के फैसले की प्रतीक्षा में मुझे लखनऊ में ही रुकना जरूरी था और न्यायालय का फैसला उचित समय पर आ गया।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में श्री राम मंदिर के निर्माण का रास्ता न्यायालय ने खोल दिया। इसके बाद से ही मैं हिमालय के संत स्वामी राम के समाधि दिवस पर आने का निश्चय कर चुका था। अयोध्या में श्री राम का कार्य पूर्ण हो गया तो, मैं स्वामी राम जी को श्रद्धा सुमन अर्पित करने यहां चला आया। इस कार्य को मैंने जरूरी भी समझा।

यह भी पढ़े :   सचिवालय में ‘खेल महाकुम्भ 2019‘ हेतु गठित राज्य स्तरीय अनुश्रवण समिति की बैठक सम्पन्न हुई