उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश दौर जारी, गंगोत्री हाईवे बंद

217

उत्तराखंड में मूसलाधार बारिश का दौर जारी है। लगातार बारिश के चलते गंगोत्री हाईवे चुंगी बड़ेथी के पास भूस्खलन से बंद हो गया। इससे खोलने के लिए प्रशासन की टीम जुटी है। वहीं, अभी अगले पांच दिनों के अंतराल में मौसम की चुनौतियां बढ़ सकती हैं। राज्य मौसम ने इस अंतराल में नौ जिलों में भारी बारिश का विशेष अलर्ट जारी किया है।

इधर, बुधवार की सुबह भी राज्यभर में बारिश का दौर जारी रहा। देहरादून, ऋषिकेश सहित गढ़वाल और कुमाऊं के अधिकांश स्थानों पर मूसलाधार बारिश हुई। देहरादून, ऋषिकेश, हरिद्वार सहित अन्य मैदानी इलाकों की सड़कें जलमग्न हो गई। सड़कों पर जलभराव से लोगों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

उत्तरकाशी में चुंगी बडेथी के पास भूस्खलन से गंगोत्री हाईवे सुबह बंद हो गया। छोटे वाहनों को जोशियाड़ा मनेरा और बड़े वाहन तेखला-मांडो लदाड़ी के रास्ते से होकर आगे बढ़ रहे हैं। वहीं, यमुनोत्री सहित, बदरीनाथ, केदारनाथ मार्ग सुचारु है।

यह भी पढ़े : महेंद्र सिंह धोनी ने रचा इतिहास, सचिन के साथ इस खास क्लब में हुए शामिल

प्रदेश के अधिकांश जिलों में मंगलवार की मध्यरात्रि से ही बारिश शुरू हो गई थी। मंगलवार अपराह्न के बाद से कभी रुक-रुक कर तो कभी जोरदार बारिश हो रही है। बारिश के चलते चारधाम तीर्थयात्रियों की संख्या कम रही। बारिश के चलते लोगों की दुश्वारियां बढ़ी हैं। देहरादून, हरिद्वार, रुड़की में जलभराव ने राहगीरों के लिए मुसीबत खड़ी की। उत्तरकाशी के बौनगांव में बारिश के पानी के साथ मलबा लोगों के घरों में घुस गया।

भूस्खलन और पहाड़ी से पत्थर गिरने की वजह से पर्वतीय मार्गों पर सफर जोखिम भरा हो रहा है। ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे शिवपुरी के नजदीक मलबा आने से करीब एक घंटे बाधित रहा। दिल्ली-यमुनोत्री मार्ग कालसी से आगे जजरेड के पास पहाड़ी से आए मलबे की वजह से कुछ देर अवरुद्ध रहा। यातायात सुचारु होने तक यहां दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लगी रही।

पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी में पुल बह जाने से दूनामानी, रमतोली और गलाती के ग्रामीणों को आठ किमी का अतिरिक्त फेरा लगाना पड़ रहा है। मलबा आने से नाचनी-बांसबगड़ मार्ग आठ घंटे मुनस्यारी मार्ग चार घंटे अवरुद्ध रहा। टनकपुर-पिथौरागढ़ हाईवे टिपन टॉप के समीप मलबा आने से बाधित है।

राज्य मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार 11 से 15 जुलाई के मध्य नौ जिलों देहरादून, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ, चमोली, टिहरी, पौड़ी और हरिद्वार में भारी से भारी बारिश होने का अनुमान है।

ऋषिकेश में जलभराव से परेशानी 

ऋषिकेश नगर क्षेत्र में सुबह करीब ढाई घंटा हुई मूसलाधार बारिश से कई जगह जलभराव हो गया। स्कूल जाने वाले छोटे बच्चों और उनके अभिभावकों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। ऋषिकेश क्षेत्र में बुधवार की सुबह करीब 5:30 बजे मूसलाधार वर्षा शुरू हुई ।बारिश कार्यक्रम करीब ढाई घंटे तक यूंही जारी रहा। सड़कों में एक फीट तक जलभराव हो गया।

देहरादून रोड, हरिद्वार रोड वीर भद्र मार्ग, शिवाजी नगर आदि सभी मार्गों पर जलभराव के कारण कुछ समय आवागमन बाधित रहा। सुबह का वक्त स्कूल जाने का होता है। सड़क पर जलभराव के कारण छोटे बच्चों और अभिभावकों  को काफी परेशानी उठानी पड़ी। अब बारिश थम गई है। बारिश के कारण नालों की गंदगी सड़क पर आ गई है।

यह भी पढ़े : चंबा के निकट खाई में गिरी कार, एक की मौत; दो घायल