दिल्ली में लगे नाइट कफ्र्यू से असमंजस में सवारी और रोडवेज, स्‍टेशन पर रात गुजारने की टेंशन

12

कोरोना के बढ़ते प्रकोप से दिल्ली में नाइट कफ्र्यू जारी होने की वजह से सवारियों के साथ उत्तराखंड परिवहन निगम के अफसर भी असमंजस में आ चुके हैं। रोडवेज की दस गाडि़यों की टाइमिंग ऐसी है कि वह रात के वक्त हल्द्वानी से आनंद विहार दिल्ली पहुंचती हैं। ऐसे में यात्रियों में इस बात को लेकर असमंजस है कि रात में दिल्ली पहुंचने पर उन्हें आगे जाने या घर पहुंचने की अनुमति या साधन मिलेगा या नहीं। कहीं ऐसा तो नहीं कि उन्हें रात बस स्टेशन पर गुजरनी पड़े। या फिर परेशानी का सामना करना पड़े।

यह भी पढ़ें :  आयुर्वेद विश्वविद्यालय में अब काउंसलिंग पर छिड़ा विवाद

देश में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। दिल्ली भी उस श्रेणी में शामिल है जहां कोरोना का ग्राफ डाउन होने के बाद फिर तेजी से उपर उठ गया। जिस वजह से दिल्ली सरकार ने रात में दस बजे से सुबह पांच बजे तक नाइट कफ्र्यू की घोषणा कर दी। इस दौरान बाजार व दुकानें आदि पूरी तरह बंद रहेगी। धार्मिक, सामाजिक व राजनैतिक कार्यक्रमों पर प्रतिबंध रहेगा। केवल अति आवश्यक सेवाओं से जुड़ी गाडिय़ां ही सड़कों पर नजर आएंगी।

इस फैसले की वजह से हल्द्वानी से लेकर कुमाऊं के लोग भी परेशान नजर आ रहे हैं। स्टेशन इंचार्ज रवि शेखर कापड़ी ने बताया कि लोग बस अड्डे पहुंच सवाल कर रहे हैं कि रात में अगर दिल्ली पहुंचे तो आगे कैसे जाएंगे। वहीं, दिल्ली से रात आठ बजे हल्द्वानी के लिए रवाना होने वाली बसों की सवारियां भी कफ्र्यू के चक्कर मेंं असमंजस में है।

यह भी पढ़ें :   अल्‍मोड़ा में कत्यूर कालीन धरोहर को संवारेंगे राजस्थान के शिल्पकार