विश्व कप में टीम इंडिया का सफर खत्म, लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचा न्यूजीलैंड

416

सांस थाम देने वाले पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर टीम इंडिया विश्व कप 2019 से बाहर हो गई। वर्षा बाधित इस मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 240 रन का लक्ष्य रखा था। जवाब में भारतीय टीम 221 रन पर ऑलआउट होते हुए 18 रन से मैच गंवा बैठी। इस जीत के साथ ही न्यूजीलैंड विश्व कप 2019 के फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बन गई। यह कीवी टीम का लगातार दूसरा फाइनल होगा, इसके पहले 2015 में भी न्यूजीलैंड खिताबी मुकाबले तक पहुंचा था। अब दूसरे फाइनलिस्ट का फैसला कल इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मैच से होगा।

आज न्यूजीलैंड के 239 रन के जवाब में टीम इंडिया की शुरुआत बेहद खराब हुई। महज 3.1 ओवर में भारतीय टीम ने 3 विकेट खो दिए। शुरुआत में लगे झटकों का असर यह हुआ कि टीम इंडिया पूरे मैच में जूझती रही। रवींद्र जडेजा (77) और महेंद्र सिंह धोनी (50) ने अपनी शतकीय साझेदारी से उम्मीद जरूर जगाई, लेकिन इन दोनों के आउट होते ही टीम इंडिया बिखर गई और आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर 221 रनों पर सिमट गई।

इसके पहले विश्व कप फाइनल में पहुंचने के लिए भारतीय टीम की शुरुआत बेहद खराब रही। चार ओवर में ही टीम इंडिया ने अपने शीर्ष तीन बल्लेबाज गंवा दिए। दूसरे ओवर में रोहित शर्मा (1), तीसरे ओवर में विराट कोहली (1) और चौथे ओवर में केएल राहुल (1) चलते बने। मैट हैनरी और ट्रेंट बोल्ट की जोड़ी ने 10वें ओवर में दिनेश कार्तिक (6) को भी पवेलियन की राह दिखा दी।

इसके पहले न्यूजीलैंड ने भारत के सामने 8 विकेट खोकर 239 रन बनाए। बुधवार को न्यूजीलैंड ने अपने कल के स्कोर 46.1 ओवरों में 221/5 से आगे खेलना शुरू किया। इन 23 गेंदों में भारतीय पेसर्स भुवी और बुमराह ने अपनी जबरदस्त खेल दोहराते हुए सिर्फ 28 रन खर्च करते हुए कीवी बल्लेबाज को पवेलियन भी लौटाया।

47 ओवर की आखिरी गेंद पर कल नाबाद लौटे खतरनाक कीवी बल्लेबाज रॉस टेलर 74 रन बनाकर रवींद्र जडेजा के खतरनाक थ्रो पर रन आउट हुए। 48 ओवर की पहली गेंद पर एक बार फिर जडेजा ने भुवी की गेंद पर टॉम लाथम को लौटाया तो आखिरी बॉल पर विराट ने कैच लपककर मैट हैनरी (1) का खेल खत्म किया। इस तरह भुवी के खाते में 3 तो बुमराह, हार्दिक पांड्या, जडेजा और चहल ने 1-1 विकेट चटकाए।