चीनी गिरवी रखकर गन्‍ना किसानों का भुगतान करेंगे मिलें, सरकार ने ली चार अरब की बैंक गारंटी

33

 गन्ना किसानों के लिए अच्छी खबर है। पेराई सत्र 2020-21 के लिए सरकार ने प्रदेश की सहकारिता क्षेत्र की चार चीनी मिलों को भुगतान के लिए चार अरब की बैंक गारंटी ली है। इससे अब चीनी मिलें बैंकों में चीनी बंधक रखकर किसानों को आसानी से भुगतान कर सकेंगी। इससे ऊधमसिंह नगर जिले की तीन चीनी मिलों पर करीब 76 हजार किसानों का 1.62 अरब रुपये के बकाए भुगतान की भी उम्मीद जगी है। चीनी बंधक रखने की स्वीकृति के बाद सभी मिलों ने इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी है। इससे उत्पादन का करीब 75 प्रतिशत भुगतान जल्द मिलने की उम्मीद है।

दो महीने बाद भी भुगतान नहीं 

नवीन गन्ना पेराई सत्र शुरू हुए करीब दो महीने हो गए हैं। लेकिन किसानों को अभी तक भुगतान नहीं दिया गया। इससे अधिकतर किसानों की आर्थिक स्थिति दयनीय हो गई है।

यह भी पढ़ें :     भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज स्पिनर बीएस चंद्रशेखर हुए बीमार, ICU में कराना पड़ा भर्ती

गणतंत्र दिवस से पहले भुगतान 

बुधवार को किसानों ने जीएम प्रकाश चंद्र व शासन में प्रभारी सचिव चंद्रेश कुमार यादव से वार्ता की। भुगतान नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी। इसके बाद आदेश जारी किया गया। विभागीय अधिकारियों के अनुसार गणतंत्र दिवस से पूर्व किसानों को भुगतान मिल जाएगा।

इन मिलों की इतनी गारंटी  

मिल                     गारंटी

बाजपुर                  131.86

किच्छा                  118.00

नादेही                    82.75

डोईवाला                  67.00

(नोट : गारंटी करोड़ में)

जानिए मिल के जीएम ने क्‍या कहा 

चीनी मिल बाजपुर के जीएम प्रकाश चंद्र ने बताया कि सोमवार को अनुबंध की प्रति मिल जाएगी। मंगलवार से बैंक की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इसके बाद किसानों को भुगतान किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :     प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे अहमदाबाद व सूरत के मेट्रो प्रोजेक्ट का भूमि पूजन