SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, Home Loan पर बढ़ायी ब्याज दर, प्रोसेसिंग फीस पर छूट भी खत्म की

13

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का होम लोन एक अप्रैल से महंगा हो गया है। बैंक ने होम लोन की ब्याज दर को संशोधित किया है। अब बैंक के होम लोन का दर 6.95 फीसद से शुरू हो रहा है। इससे पहले बैंक ने रियल एस्टेट सेक्टर में डिमांड को बढ़ाने के लिए होम लोन की शुरुआती दर को घटाकर 6.70 फीसद कर दिया था। बैंक ने 75 लाख रुपये तक के लिए होम लोन की शुरुआती दर को 6.70 फीसद और 75 लाख से पांच करोड़ रुपये के होम लोन के लिए ब्याज की शुरुआती दर को 6.75 फीसद पर किया था। हालांकि, हालिया संशोधन के बाद यह लिमिटेड ऑफर 31 मार्च को समाप्त हो गया।

यह भी पढ़ें :   तीरथ ने नौकरशाही में किया बड़ा फेरबदल, 30 अधिकारियों के पदभार बदले

भारतीय स्टेट बैंक के वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक एक अप्रैल से होम लोन की प्रभावी नई दर 6.95 फीसद है।

देश के सबसे बड़े बैंक द्वारा होम लोन में वृद्धि किए जाने के बाद कई अन्य बैंक, हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां होम लोन पर ब्याज दर में वृद्धि कर सकती हैं।

प्रोसेसिंग फीस में छूट भी हुई समाप्त

भारतीय स्टेट बैंक अब होम लोन पर प्रोसेसिंग फीस भी लेगा। बैंक की ओर से उपलब्ध करायी गई जानकारी के मुताबिक वह लोन की कुल राशि के 0.40 फीसद की प्रोसेसिंग फीस लेगा। प्रोसेसिंग फीस के साथ जीएसटी भी देय होगा। बैंक प्रोसेसिंग फीस के रूप में न्यूनतम 10,000 रुपये और अधिकतम 30,000 रुपये व जीएसटी लेगा।

पिछले महीने त्योहारी सीजन को ध्यान में रखते हुए SBI ने होम लोन पर प्रोसेसिंग फीस में छूट को जारी रखा था।

SBI के होम लोन रेट में वृद्धि से रियल एस्टेट सेक्टर की डिमांड पर असर देखने को मिल सकता है। Jagran Dialogues में Anarock के अनुज पुरी ने भी इस बात को गिनाया कि होम लोन पर ब्याज दर के पिछले डेढ़ दशक में सबसे निचले स्तर पर रहने से रियल एस्टेट सेक्टर में पिछले दो तिमाहियों में अच्छी बिक्री देखने को मिली।