रुड़की: संदिग्ध बुखार से महिला समेत चार की हुई मौत

484
रुड़की के भगवानपुर क्षेत्र में संदिग्ध बुखार से पीड़ित महिला समेत चार और लोगों की मौत हो गई। बुखार से लगातार हो रही मौतों से ग्रामीणों में दहशत है जबकि कई लोग अब भी बुखार की चपेट में है। उनका रुड़की स्थित सिविल अस्पताल और आसपास के निजी अस्पतालों में उपचार चल रहा है। वहीं, क्षेत्र में संदिग्ध बुखार से अब तक करीब 16 लोगों की मौत हो चुकी है। भगवानपुर क्षेत्र के गांव छापुर और सिंकदरपुर भैंसवाल में बुखार का कहर बढ़ता जा रहा है। चार दिन पूर्व सीएमओ डॉ. सरोज नैथानी ने गांवों का निरीक्षण कर ग्रामीणों का हाल जाना था। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को ग्रामीणों के स्वास्थ्य परीक्षण कर उचित उपचार दिए जाने के निर्देश दिए थे। बृहस्पतिवार को क्षेत्र में बुखार से एक महिला समेत चार और लोगों की मौत हो गई।

छापुर निवासी 50 वर्षीय मुस्तकीमा पत्नी यूनुस पिछले कई दिनों से बुखार से पीड़ित थीं। उन्हें परिजनों ने देहरादून के एक अस्पताल में भर्ती कराया था। यहां देर रात उपचार के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया। वहीं, गांव सिकंदरपुर भैंसवाल में 48 वर्षीय सुखराम और खुर्शीद भी कई दिनों से बुखार से पीड़ित थे। उनका अलग-अलग अस्पतालों में उपचार चल रहा था। देर रात उपचार के दौरान दोनों की मौत हो गई।

यह भी पढ़े :  भारत को मिली 71 रन की बढ़त, साउथ अफ्रीकी टीम 431 रन पर ढेर

उधर, औद्योगिक क्षेत्र में किराये पर रहने वाले बुखार से पीड़ित संतराम की भी अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। छापुर, सिंकदरपुर गांव में कई लोग अब भी बुखार से पीड़ित हैं। उधर, सीएमओ डॉ. सरोज नैथानी ने बताया कि मेरे संज्ञान में दो लोगों की मौत का मामला आया है। शनिवार को टीम गांव भेजकर मामले की जांच कराई जाएगी। टीम को मौत के कारणों का पता लगाने के निर्देश दिए हैं।

बुखार के चपेट में आए डॉक्टर और सफाई नायक 

ग्रामीणों के बाद अब स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर भी संदिग्ध बुखार की चपेट में आ गए हैं। वहीं, सफाई नायक को भी बुखार की शिकायत पर सीएचसी में भर्ती कराया गया है। सीएचसी के डेंटल सर्जन और सफाई नायक के बुखार की चपेट में आने से क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल है। क्षेत्र में संदिग्ध बुखार से पीड़ित लोगों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है।

भगवानपुर क्षेत्र के छापुर, सिरचंदी और सिकंदरपुर में बुखार का कहर अभी कम नहीं हुआ था कि सीएचसी के डेंटल सर्जन डॉ. दीपिका को भी बुखार ने अपनी चपेट में ले लिया है। बुखार की शिकायत होने पर उन्हें सीएचसी में भर्ती कराया गया। वहीं, सफाई नायक अंकुर कुमार को भी बुखार की शिकायत पर सीएचसी में भर्ती कराया गया है। यहां उपचार के बाद उन्हें कुछ दिन के आराम के लिए घर भेज दिया गया है।

वहीं, ग्राम छापुर निवासी अक्षय कुमार भी कई दिनों से बुखार से पीड़ित है। शुक्रवार को अक्षय को सीएचसी में भर्ती कराया गया है। छापुर गांव में बुखार के रोजाना नए मामले सामने आने से ग्रामीणों में दहशत है। बता दें कि छापुर में अब तक संदिग्ध बुखार से एक दर्जन से भी अधिक लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कई का अलग-अलग अस्पतालों में उपचार चल रहा है। सीएचसी प्रभारी डॉ. विक्रांत सिरोह ने बताया कि बुखार के मरीजों को उपचार दिया जा रहा है। गांवों में स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार नजर रख रही है।