रोडवेज बस व ट्रक में भिड़ंत, 12 घायल

851

टनकपुर पिथौरागढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग पर अमोड़ी से दो किमी आगे चल्थी की ओर एक रोडवेज बस व एक कैंटर में जबर्दस्त भिड़ंत हो गई। जिसमें बस व कैंटर में सवार 12 लोग घायल हो गए। दुर्घटना का कारण दोनों चालकों की लापरवाही व तेज गति को बताया जा रहा है। प्राथमिक उपचार के बाद घायलों को दूसरे वाहन से गंतव्य को भेजा।

गुरुवार की सुबह पिथौरागढ़ डिपो की बस संख्या यूके07 2503 दिल्ली से पिथौरागढ़ को जा रही थी। जिसमें चालक परिचालक सहित 39 यात्री सवार थे और कैंटर संख्या यूके 05टीए 1438 पिथौरागढ़ से पीलीभीत जा रह था। सुबह करीब सवा सात बजे अमोड़ी के पास आमने-सामने से भिड़ंत हो गई। जिसमें दोनों वाहनों में सवार 12 लोग घायल हो गए।

सूचना पर तुरंत चल्थी चौकी इंचार्ज हरीश प्रसाद पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने कई बार 108 को कॉल किया, लेकिन नंबर नहीं लगा तो उन्होंने घायलों का अपने सरकारी वाहन से अमोड़ी ले गए, जहां आयुर्वेदिक चिकित्सालय व डॉ. बंगाली के निजी क्लीनिक पर घायलों का प्राथमिक उपचार कराया। तीन गंभीर घायलों को उपचार के लिए खटीमा भेजा गया। घायलों में नौ यात्री बस के तथा तीन कैंटर के थे। घायलों के हाथ, पैर, मुंह व सिर में चोट आई।

वही दूसरी तरफ़ कुछ ऐसा हुआ पढ़िए : रेलवे डीजल लॉबी के अधीक्षक के घर से लाखों की चोरी

तेज गति थी दुर्घटना का कारण

आमने-सामने हुई टक्कर का कारण दोनों चालकों की लापरवाही बताई जा रही। यात्रियों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों चालक तेज गति से वाहन चला रहे थे। जिस कारण भिड़ंत हुई और दोनों वाहनों में बैठे लोग बाल-बाल बचे। दोनों वाहन किए सीज

जांच में दोनों वाहन चालकों की लापरवाही उजागर होने पर पुलिस ने दोनों वाहन सीज कर दिए हैं। एसआइ हरीश प्रसाद ने बताया तेज गति से वाहन चलाने तथा यात्रियों की जान को जोखिम में डालने के कारण दोनों चालकों के डीएल निरस्तीकरण की कार्रवाई की जा रही है। घायलों को करीब साढ़े तीन घंटा करना पड़ा इंतजार

दानों वाहनों की टक्कर के बाद घायलों के अलावा अन्य यात्री दूसरे वाहन से अपने गंतव्य को चले गए। वहीं घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद साढ़े तीन घंटे तक इंतजार करना पड़ा। टनकपुर डिपो से दूसरी बस मंगाकर घायल यात्रियों को पिथौरागढ़ भेजा गया।

वही दूसरी तरफ़ कुछ ऐसा हुआ पढ़िए : चालक की लापरवाही: बस की चपेट में आने से युवक की मौत, दो घायल