अभिनेता रजनीकांत पहुंचे स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय

752

सुपरस्टार सिने अभिनेता रजनीकांत मंगलवार को अचानक जौलीग्राण्ट स्वामीरामनगर स्थित स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय (एसआरएचयू) पहुंचे। यहां पहुंचकर उन्होने स्वामी राम सेंटर में रजनीकांत ने ब्रह्मलीन संत डॉ. स्वामी राम को श्रद्धा सुमन अर्पित किए । रजनीकांत ने डॉ स्वामी राम के चित्र के समीप कुछ देर ध्यान लगाकर उनका स्मरण किया।

सुपरस्टार रजनीकांत ने कहा कि गुरु का उनके जीवन में विशेष स्थान रहा है। हिमालयन इंस्टिट्यूट के संस्थापक स्वामी राम जी एक महान संत थे। उनका जीवन अनुरकरणीय है। मेरे गुरु ब्रह्मलीन स्वामी दयानंद सरस्वती जी भी स्वामी राम जी से अध्यात्मिक रुप से जुड़े हुए थे। उन्होंने कहा कि स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय स्वामी जी के तप से निकला संस्थान है।

यहां पर आकर उन्हें अध्यात्मिक व मानसिक शांति का अहसास हुआ। उन्होंने संस्थान के उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी। साथ ही कहा कि स्वामी जी के आशीर्वाद से उनकी आने वाली फिल्म भी हिट होगी।

यह भी पढ़ें : रसोई बजट पर महंगाई की मार, 8 रुपये महंगा मिलेगा सिलेंण्डर

इस दौरान एसआरएचयू पहुंचने पर रजनीकांत का प्रति-कुलपति डॉ. विजेंद्र चौहान, नेत्र सर्जन व नर्सिंग डायरेक्टर डॉ. रेनू धस्माना, आरडीआई डायरेक्टर बी.मैथिली ने संयुक्त रुप से उनका स्वागत किया। इस दौरान डॉ. नीना चौहान, डॉ. मंजू सैनी, के. शैलेजा, अमरेंद्र कुमार आदि मौजूद रहे।

गौरतलब है कि सुपरस्टार रजनीकांत आजकल अपनी सुपरहिट फिल्म काला का सीक्वल ‘काला-2’ की शूटिंग उत्तराखण्ड में कर रहे हैं। वह अब तक देहरादून, मसूरी व थानो क्षेत्र में फिल्म की शूटिंग कर चुके हैं। फ़िल्म में दून, विकासनगर और मसूरी समेत स्थानीय लोगों को भी अभिनय करने का मौका मिला है।

यह भी पढ़ें : दूसरे समुदाय के युवक के साथ होटल के कमरे में मिली नाबालिग लड़की, भीड़ ने की तोड़फोड़, बाजार बंद

मसूरी में पिछले एक सप्ताह से कई स्थानों पर रजनीकांत की दक्षिण भारतीय फिल्म की शूटिंग चल रही है। इसी कड़ी में रविवार को मसूरी-देहरादून मार्ग स्थित भट्टा गांव में कई सीन फिल्माए गए। मारधाड़ वाले सीन को कई बार रीटेक किया गया। आउटडोर शूटिंग की वजह से देहरादून मार्ग पर पुलिस तैनात रही।

भट्टा गांव के खेतों में रविवार को दक्षिण भारतीय फिल्मों के अभिनेता एवं सुपरस्टार रजनीकांत का एक्शन दृश्य फिल्माया गया। इस दौरान गांव में एक बाजार का सेट बनाया गया था।

यह भी पढ़ें : दरिंदगी : इंसानियत फ़िर शर्मसार नाखूनों से नोच डाली मासूम बच्ची, बलात्कार, हत्या कर शव सीमेंट और ईंट से दबाया

स्थानीय निवासी गौरव रावत, आशीष रावत, राकेश रावत आदि ने बताया कि सुपरस्टार रजनीकांत को करीब से देखकर यकीन नहीं हो रहा है। वहीं वीकेंड के कारण बड़ी संख्या में पर्यटक भी अपने चहेते अभिनेता की एक झलक पाने के लिए काफी देर खड़े रहे, लेकिन कड़ी सुरक्षा के चलते उनको निराशा हाथ लगी।