हरिद्वार पहुंचे पाकिस्तानी हिंदूओं ने किया सीएए का समर्थन, सरकार के फैसले को बताया सही

75
तीर्थ यात्रा के मद्देनजर पाकिस्तान के सिंध प्रांत से सोमवार को पाकिस्तानी हिंदुओं का एक जत्था हरिद्वार पहुंचा। पाकिस्तानी हिंदुओं के जत्थे ने नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करते हुए इसे सही कदम बताया है।

उनका कहना है कि इससे पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश आदि देशों के हिंदू, बौद्घ , सिख आदि शरणार्थियों को राहत मिलेगी। पाकिस्तान के लरकाना जनपद से आए कारोबारी अमृत लाल ने बताया कि नागरिकता संशोधन कानून से सालों पहले भारत आए पाकिस्तानी हिंदुओं को इसका फायदा होगा।

यह भी पढ़े :  भूस्खलन से बदरीनाथ हाईवे पर आया भारी मलबा, विष्णुप्रयाग में रास्ता बंद

इस काननू के लागू हो जाने के बाद अब पाकिस्तानी हिन्दुओं को भारतीय नागरिता के साथ ही कारोबार करने में इसका लाभ प्राप्त मिलेंगा। लरकाना से ही आए आकाश ने बताया कि सीएए को सरकार किस तरह लागू करती है, ये देखने वाली बात होगी।

गोडकी जनपद से आए दर्शनलाल, दया राम और आशाराम ने सीएए का समर्थन किया। बताया कि पाकिस्तान में इमरान सरकार में कई नई मंदिर खोले गए हैं, लेकिन लोगों में कानून का डर ऐसा होना चाहिए जिससे धार्मिक स्थलों को नुकसान न पहुंचे और अल्पसंख्यकों को इंसाफ मिल सके।

कईं जगह पाकिस्तानी हिंदुओं में असुरक्षा का भाव है तो कई स्थानों पर दोनों समुदाय के लोग अच्छी तरह से रहते हैं। यह जत्था कई दिनों तक हरिद्वार में रहेगा। वहीं, एक और जत्था भी रविवार को भी हरिद्वार पहुंचा था। उसमें शामिल यात्रा कनखल में ठहरे हैं