ओवरलोड वाहनों से लग रहा जाम, मानक से अधिक खनिज भरकर दौड़ रहे वाहन पैदा कर रहे समस्या

74

रानीखेत खैरना स्टेट हाईवे से बेतालघाट ब्लॉक के तमाम गांवों को जोड़ने वाले शहीद बलवंत सिंह भुजान – वर्धो मोटर मार्ग पर ओवरलोड वाहन मुसीबत का सबब बन गए हैं। मोटर मार्ग के बदहाल होने के साथ-साथ बार-बार जाम भी लग रहा है जिससे ग्रामीणों को आवाजाही में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

शहीद बलवंत सिंह भुजान वर्धो मोटर मार्ग पर मानक से अधिक उपखनिज  भर कर दौड़ रहे भारी भरकम डंपरो ने मोटर मार्ग को बद से बदतर स्थिति में पहुंचा दिया है अब कई वाहन ओवरलोड होने से मोटर मार्ग पर स्थित कई जगह चढ़ाई पर नहीं चढ़ पा रहे हैं जिससे कई बार जाम की स्थिति पैदा हो रही है वही बड़े खतरे का भी अंदेशा बना हुआ है।

यह भी पढ़ें :   Ind vs Aus: हार के बाद विराट कोहली बोले, दुर्भाग्य है हार्दिक पांड्या फिट नहीं गेंदबाजी के लिए

मानक से अधिक वजन भर कर दौड़ रहे डंपर बड़े खतरे की ओर इशारा कर रहे हैं। शहीद बलवंत सिंह मोटर मार्ग पर स्थित बढेरी, वर्धो, रतौड़ा, नैनीचैक आदि तमाम गांवों के ग्रामीण कई बार मानक से अधिक वजन भर कर दौड़ रहे डंपरो की आवाजाही प्रतिबंधित किए जाने की मांग उठा चुके हैं पर कोई सुनवाई नहीं हो रही। स्थानीय ग्रामीणों ने मानक से अधिक उपखनिज भर कर दौड़ रहे वाहन चालकों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग उठाई है। दो टूक चेतावनी दी है कि यदि ऐसे ही मनमानी की गई तो मोटर मार्ग पर भारी-भरकम वाहनों की आवाजाही बाधित कर दी जाएगी।

करोड़ों की पुल पर भी मंडरा रहा खतरा

मानक से अधिक खनिज भर कर दौड़ रहे भारी भरकम डंपरो से कुंजगढ नदी पर करोड़ों की लागत से बने पुल पर भी खतरा मंडराने लगा है। ग्रामीणों के लंबे आंदोलन के बाद बमुश्किल कुंजगढ़ नदी पर पुल का निर्माण हो सका था कि अब भारी भरकम व भारी संख्या में दौड़ रहे डंपर पुल को कभी भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। ग्रामीणों ने पुल की सुरक्षा के लिए भी ठोस कदम उठाए जाने की मांग की है।

भारीभरकम डंपर मानक से अधिक वजन भरकर यदि कुंजगढ पुल पर एक साथ आवाजाही करेगे तो पुल को भी नुकसान हो सकता है। यदि नियमों का उल्लंघन हुआ तो प्रशासन से भी पत्राचार करेंगे। -एलएम तिवारी, सहायक अभियंता, एनएच

यह भी पढ़ें :  Bihar Politics: स्‍पीकर ने दी मास्‍क लगाने की नसीहत तो खीझ गए तेजस्‍वी यादव, कहा-12 फीट पर तो बैठाए है न