उत्तराखंड में करीब 3000 शिक्षको के हो सकते है तबादले

452

प्रदेश में तबादलों की जद में करीब 3000 शिक्षक आ सकते हैं। अनिवार्य तबादलों के कुल पात्र शिक्षकों में से 10 फीसद शिक्षकों की तबादला सूची को अंतिम रूप देने में विभाग जुट गया है। कमोबेश यही कसरत शिक्षाधिकारियों को लेकर भी चल रही है।

कार्मिक की ओर से तबादलों को लेकर स्थिति साफ करते हुए आदेश जारी किया जा चुका है। पहले विभागीय अधिकारियों को कुल रिक्त पदों के दस फीसद या कुल सृजित पदों के दस फीसद अथवा तबादलों के पात्र कुल शिक्षकों के दस फीसद के ही तबादले किए जाने को लेकर भ्रम था। इस भ्रम को दूर करने की दरख्वास्त विभिन्न महकमों की ओर से कार्मिक से की गई थी। अब कार्मिक यह स्पष्ट कर चुका है कि तबादलों के पात्र कार्मिकों में से दस फीसद के ही इस सत्र में तबादले किए जाएंगे।

इस खबर को भी पढ़िए सीबीएसई कर्मी से ओएलएक्स के जरिये ठगे 45 हजार रुपये

अब शिक्षा विभाग इस आदेश के मुताबिक तबादलों के पात्र कुल शिक्षकों में से दस फीसद शिक्षकों की तबादला सूची तैयार कर रहा है। एजुकेशन पोर्टल पर अनिवार्य तबादलों के कुल पात्र शिक्षकों, शिक्षाधिकारियों का ब्योरा उपलब्ध है। इसमें दस फीसद के आधार पर तबादला सूचियां तैयार की जा रही हैं। दुर्गम क्षेत्रों में तीन साल या इससे अधिक अवधि से कार्यरत शिक्षकों की संख्या 29565 है।

ऐसे में दुर्गम में कार्यरत 2900 से अधिक शिक्षक तबादलों की पात्रता की जद में आने तय हैं। अगले हफ्ते से तबादला सूचियों को अंतिम रूप दिया जाएगा। वहीं तबादलों समेत तमाम अपडेट जानकारी और विभागीय कार्यों की समीक्षा के लिए शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय ने अगले हफ्ते बैठक बुलाने के निर्देश दिए हैं। यह बैठक 13 जून को हो सकती है।

इस खबर को भी पढ़िए :  दोस्त ने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर किया दुष्कर्म, गर्भपात का भी आरोप