सांसद अजय भट्ट ने महिलाओं को नॉर्मल डिलीवरी के लिए बताया अनोखा फॉर्मूला

537

भाजपा के उत्तराखंड के प्रदेश अध्‍यक्ष और नैनीताल-ऊधमसिंह नगर से बीजेपी सांसद अजय भट्ट एक बार फिर सोशल मीडिया में छाए हुए हैं। दरअसल उन्‍होंने सदन में अपनी बात रखते हुए कुछ ऐसा कह दिया है कि सुर्खियों में बने हुए हैं। लोकसभा में होम्योपैथी केंद्रीय परिषद संशोधन विधेयक 2019 पर बोलते हुए भट्ट ने महिलाओं को नॉर्मल डिलीवरी के लिए अनोखा फॉर्मूला बताया।

उनके फॉर्मूले के बारे में जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे। उन्होंने लोकसभा में बिल पर चर्चा करते हुए कहा कि गर्भवती महिलाएं महिला अगर गरुड़ गंगा के पत्थर को रगड़ कर एक कप पानी के साथ पी लें, तो उसकी सामान्य डिलीवरी संभव है। जिसके बाद से उनके बयान की खासी किरकिरी हो रही है। भट्ट ने अपनी बाते को आगे बढ़ाते हुए कहा कि भले ही डॉक्टर ऑपरेशन की बात करें पर ये चमत्कार है। इसकी जानकारी बहुत कम लोगों को पता है।

 यह भी पढ़े : पुलिस ने पांच लोगों को अवैध हथियारों के साथ किया गिरफ्तार

सांप-बिच्‍छू काटने पर घिसकर लगाएं पत्‍थर का लेप 

अजय भट्ट यहीं नहीं रुके, उन्होंने अपनी बात रखते हुए आगे कहा कि अगर सांप-बिच्छू के काटने पर कोई पत्थर घिसकर उसका लेप लगा ले तो जहर का असर खत्म हो जाता है। गौरतलब है कि गांव-देहातों में घरेलू नुस्खों से लोगों का ईलाज किया जाता है, लेकिन संसद में बीजेपी सांसद का गर्भवती महिलाओं को नॉर्मल डिलीवरी के लिए बताया गया ये फॉर्मूला हैरान करने वाला है।

मानव संसाधन विकास मंत्री भी दे चुके हैं विवादित बयान

मानव संसाधन विकास मंत्री डॉक्टर रमेश पोखरियाल निशंक भी ज्योतिष को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। 16वीं लोकसभा में दिसंबर 2014 में रमेश पोखरियाल निशंक ने दावा किया था कि ज्योतिष के सामने विज्ञान बौना है। उनका ये बयान उस वक्त काफी चर्चाओं में रहा था। विवाद बढ़ने के बावजूद निशंक अपने उस बयान पर अड़े रहे थे। निशंक हरिद्वार से बीजेपी सांसद हैं, उन्‍हें पहली बार केन्‍द्रीय म‍ंत्रिमंडल में जगह मिली है।

 यह भी पढ़े : दून में चेन लूट जारी, पुलिस के हाथ खाली