मदन कौशिक बोले, संत जैसा चाहेंगे उसी के अनुरूप कदम उठाएगी सरकार; कोरोना के नए रूप को भी देंगे मात

44

उत्तराखंड सरकार के प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि हरिद्वार में अगले साल होने वाले कुंभ के लिए तैयारियां पूरी हैं। फरवरी में कुंभ के नोटिफिकेशन का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि कुंभ के स्वरूप को लेकर अखाड़ा परिषद और संत महात्मा तत्कालीन परिस्थितियों को देखते हुए जो भी निर्णय लेंगे, उसी के अनुरूप सरकार कदम उठाएगी। उन्होंने कहा कि कुंभ का आयोजन तो अखाड़े ही करते हैं, सरकार का काम व्यवस्थाएं बनाना है।

कैबिनेट मंत्री कौशिक ने मंगलवार को अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कुंभ एक अंतरराष्ट्रीय आयोजन है। ऐसे में कोरोना से बचाव के मद्देनजर सभी पहलुओं को भी देखा जाना है। पूर्व में दिसंबर में कुंभ की अधिसूचना जारी होती थी, लेकिन इस बार अखाड़ों और संतों से बातचीत के आधार पर फरवरी में कुंभ की अधिसूचना जारी करने का निर्णय लिया गया है। यह शाही स्नान के हिसाब से तय किया गया है। मार्च में एक और अपै्रल में तीन शाही स्नान होंगे। उन्होंने बताया कि कुंभ के नोटिफिकेशन से पहले अखाड़ों व संत-महात्माओं के साथ बैठक की जाएगी।

यह भी पढ़ें :   जरूरत के समय क्यों गायब हो जाते हैं राहुल, जानिए कब-कब विदेश दौरे पर गए

उन्होंने माना कि कोरोना संक्रमण के बीच कुंभ के आयोजन की भी चुनौती है। हालांकि, सरकार ने इसी हिसाब से तैयारियां की हैं। उन्होंने कहा कि भीड़ नियंत्रण के मद्देनजर विभिन्न राज्यों से पहले ही बातचीत हो चुकी है। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि संतों की नाराजगी की उन्हें जानकारी नहीं है। यदि ऐसी कोई बात आएगी तो संतों के साथ मिल बैठकर रास्ता निकाला जाएगा।

कोरोना के नए रूप को भी मात देंगे

कैबिनेट मंत्री कौशिक ने कहा कि कारोना की चुनौती से पार पाने के लिए सरकार पूरी तरह संजीदा है। जरूरी मापदंडों का पालन सभी को करना है। उन्होंने कहा कि कोरोना के नए रूप को रोकने में भी हम सफल होंगे। ग्रेट ब्रिटेन से जो भी लोग उत्तराखंड आए हैं, उनकी निगरानी के साथ ही कांट्रेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। ग्रेट ब्रिटेन से आए जो लोग कोरोना पॉजिटिव आए हैं, जरूरत पड़ने पर उनके सैंपल उच्च स्तरीय लैब को भी भेजे जाएंगे।

सीएम को हल्का बुखार

कैबिनेट मंत्री कौशिक ने बताया कि कोरोना संक्रमण की चपेट में आए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को हल्का बुखार था। इसी वजह से उन्हें दिल्ली शिफ्ट किया गया। उन्होंने कहा कि अब मुख्यमंत्री स्वस्थ हैं और जल्द ही स्वस्थ होकर जनसेवा में जुटेंगे।

किसान हितों को लेकर सरकार संजीदा

सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि किसान हितों को लेकर राज्य सरकार भी पूरी तरह संजीदा है। किसानों की आय दोगुना करने के मद्देनजर कई कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कृषि कानूनों को लेकर विपक्ष पर किसानों को गुमराह करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि एक तरफ कांगे्रेस लोकसभा व राज्यसभा में कृषि बिलों को पारित कराती है और बाहर आकर इसका विरोध करती है।