कांवड़ यात्रा में ‘भगवान शंकर’ पहना रहे ‘भोलों’ को हेलमेट

794

कांवड़ मेले में बाइकर्स को हेलमेट का महत्व समझाने के लिए हरिद्वार पुलिस ने अनोखा तरीका निकाला है।
पुलिस ने कुमाऊं से आए कलाकारों को भगवान शंकर का प्रतिरूप बनाकर कई जगह तैनात कर दिया है। बिना हेलमेट के दुपहिया पर आ रहे कांवड़ियों को भगवान शंकर का वेष धरे कलाकार हेलमेट पहनाने के साथ सड़क सुरक्षा की जानकारी भी दे रहे हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कृष्ण कुमार वीके तथा एसपी ट्रैफिक मंजूनाथ टीसी की अगुवाई में शुरू हुई इस मुहिम में कलाकारों की कई टीमें शहर भर में तैनात है। जैसे ही बिना हेलमेट के कावंड़ियां मिल रहा है उसे भगवान शंकर बने कलाकार हेलमेट पहनने के बारे में समझा रहे हैं।

उदाहरण दिया जा रहा है कि गणेश जी का सिर कटने पर सर्जरी से हाथी का सिर लगा दिया था, लेकिन यह तरीका अब नहीं अपनाया जा सकता।

यह भी पढ़ें :  सड़क के गड्ढे ने फ़िर ली दो जान, 300 मीटर खाई में गिरी कार, मां-बेटे की मौत

ऐसे में सिर को सुरक्षित रखना है तो हेलमेट जरूर पहनें। यह कलाकार चंड़ी घाट चौक, सिंहद्वार चौक और जगजीतपुर पुलिस चौकी के पास खड़े हैं, वहीं हेलमेट की दुकान भी लगवाई हैं।

अभियान की अगुवाई कर रहे यातायात पुलिस अधीक्षक मंजूनाथ टीसी ने बताया कि इस भावनात्मक अपील का बहुत सकारात्मक असर दिखाई दिया है। पहले ही दिन तीनों स्थानों पर 4 सौ से ज्यादा कावंड़ियों को हैलमेट पहनाने में पुलिस सफल रही।

यह भी पढ़ें :  रोडवेज बस ने कार को रौंदा, बसपा नेता सहित दो की मौत, एक घायल
कांवड़ियों और पुलिस के बीच नोकझोंक
डाक कांवड़ में लगे डीजे की बेल्ट काटने से गुस्साए कांवड़ियों ने बुधवार को ज्वालापुर में पुल जटवाड़ा के पास जमकर हंगामा किया। इस दौरान गुस्साए कांवड़िए जाम लगाकर सड़क पर बैठ गए । बेल्ट मिलने के बाद भी कांवड़िए शांत हुए और जाम खोला।
यह भी पढ़ें : जिलाधिकारी ने किया आपदा प्रभावित सोलपट्टी के ढाडरबगड क्षेत्र का भ्रमण
घटनाक्रम के अनुसार दोपहर करीब दो बजे बहादराबाद की ओर से डाक कांवड़ लेकर आ रहे मुजफ्फरनगर और मेरठ के कांवड़ियों के वाहनों पर लगे डीजे तेज आवाज में बज रहे थे। आरोप है कि पुल जटवाड़ा के पास हाईवे पर गश्त कर रहे बहादराबाद के थानाध्यक्ष मनोहर भंडारी और उनके सहकर्मियों ने तीन चार ट्रैक्टर ट्रालियां पर लगे डीजे की बेल्ट काट दी। जिससे कांवड़िए विरोध में उतर आए और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।
यह भी पढ़ें : अभिनेता रजनीकांत पहुंचे स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय

इसके बाद आसपास के पुलिसकर्मी भी आ गए। दोनों पक्षों के बीच नोकझोंक हुई। योगी जिंदाबाद और उत्तराखंड सरकार मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए जाम लगा दिया। वह अपने वाहनों पर डीजे लगाने की मांग कर रहे थे। तनातनी बढ़ने की सूचना मिलने पर एसएसपी कृष्ण कुमार वीके और एसपी सिंटी ममता वोहरा मौके पर पहुंचे । उन्होंने कांवड़ियों को शांत करने का प्रयास किया लेकिन कांवडिये नहीं माने। पुलिस ने कांवड़ियों को बेल्ट लाकर दी।

साभार : अमर उजाला