ससुरालियों ने नवविवाहिता को जिंदा जलाने की कोशिश की

44

मोरोवाला में ससुरालियों ने नव विवाहिता को जिंदा जलाने की कोशिश की। यह आरोप विवाहिता ने खुद क्लेमेनटाउन पुलिस को दी तहरीर में लगाया है। विवाहिता को इलाज के लिए कोरोनेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले में पुलिस ने तहरीर के आधार पर पति समेत ससुराल पक्ष के छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस के अनुसार सीमा अहमद पुत्री स्व. शकील अहमद निवासी राजीवनगर तरली कंडोली सहस्रधारा रोड ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि उसकी शादी बीती 24 फरवरी को मुस्लिम रीति-रिवाज से हुई थी। शादी के कुछ दिन तक तो सब ठीक रहा, लेकिन फिर सभी का व्यवहार उसके प्रति बदलने लगा। उसे बात-बात पर तंग किया जाने लगा।

यह भी पढ़े : देहरादून के ठेकेदार ने कानपुर के ठेकेदार पर 52 लाख की धोखाधड़ी का आरोप लगाया

दहेज में नकदी और गाड़ी की मांग को लेकर ताने दिए जाने लगे। 19 मई को भी पति, सास व देवरानी ने उसकी पिटाई की, जिसके बाद वह अपने भाई के साथ मायके चली गई। पांच अगस्त को कुछ रिश्तेदारों के प्रयास से ससुराल पक्ष के साथ समझौता हो गया। इसके बाद वह ससुराल आ गई, लेकिन परिवार वालों का रवैया फिर से पहले जैसा हो गया।

गुरुवार को ससुराल वालों ने उसे जमकर पीटा। जब पति अमजद घर आया तो उसने सीमा की एक न सुनी और उसने कहा कि वह उसे तलाक दे चुका है। इसका सीमा ने विरोध किया तो सभी ने उस पर ज्वलनशील पदार्थ छिड़क कर आग लगा दी। किसी तरह से सीमा ने आग बुझाई।

मायके पक्ष के लोगों के आने के बाद उसे कोरोनेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया। एसओ नरोत्तम बिष्ट ने बताया कि चिकित्सकों के अनुसार सीमा अहमद करीब चालीस फीसद झुलसी है। तहरीर के आधार पर उसके पति, सास रईसा व ससुराल पक्ष के अलफिया, सबीना, यास्मीन व आबिद के खिलाफ दहेज उत्पीड़न व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पीड़िता के बयान दर्ज कराए जा रहे हैं।

यह भी पढ़े :  रेस्टोरेंट में खाना खाने गया युवक, चोरो ने उड़ाई बाइक