Haridwar Kumbh Mela 2021: कुंभ में देव डोलियों के स्नान के दौरान होगी पुष्प वर्षा

11

 Haridwar Kumbh Mela 2021 प्राचीन परंपरा के अनुसार राज्य के विभिन्न हिस्सों से कुंभ में हरिद्वार आने वाली देव डोलियों के गंगा स्नान के दौरान हेलीकाप्टर अथवा ड्रोन से पुष्प वर्षा होगी। पर्यटन, संस्कृति एवं धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज ने बुधवार को विधानसभा स्थित कार्यालय में हुई बैठक में अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने उत्तराखंड की देवसंस्कृति को वैश्विक और भव्य स्वरूप प्रदान करने के लिए देवी-देवताओं की देव डोलियों के कुंभ स्नान की सभी तैयारियां व्यवस्थित करने को भी कहा। देव डोलियां 25 अपै्रल को हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर गंगा स्नान करेंगी।

यह भी पढ़ें :   हल्द्वानी डिपो ने हर रोज कमाए 11 लाख रुपये, मार्च में इनकम बेहतर, अब कोरोना से आएगी दिक्कत

कैबिनेट मंत्री महाराज ने बैठक में कहा कि उत्तराखंड देवी-देवताओं की भूमि है, जिसका कण-कण स्वयं में देवतुल्य है। परंपरानुसार देव-देवताओं की डोलियां कुंभ के दौरान हरिद्वार में स्नान करने आती हैं और बड़ी संख्या में श्रद्धालु उनके दर्शन करते हैं। इसी के तहत देव डोलियां स्नान के लिए हरिद्वार कुंभ में आएंगी। इस लोक संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा की शुरुआत 24 अपै्रल को ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट से होगी, जहां प्रदेशभर से ढोल नगाड़ों और स्थानीय देवी देवताओं के चिह्न के साथ 200 से अधिक देव डोलियों के पहुंचने की संभावना है। ये डोलियां 25 अपै्रल को हरिद्वार में हरकी पैड़ी में ब्रह्मकुंड में स्नान करेंगी और फिर पंतदीप स्थित पांडाल में पूजा-अर्चना के बाद देव आशीर्वाद का कार्यक्रम होगा।

महाराज ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि देव डोलियों के आगमन के मद्देनजर ऋषिकेश से हरिद्वार तक इनके दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के आवागमन, मंच-पांडाल, जलपान, सुरक्षा, यातायात व भीड़ प्रबंधन के पुख्ता इंतजाम किए जाएं। उन्होंने शोभायात्रा का रूट चार्ट बनाकर आपसी समन्वय से कार्यक्रम को देव डोलियों की गरिमा के अनुरूप भव्य स्वरूप प्रदान के लिए व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने को भी कहा। बैठक में देवभूमि लोक संस्कृति विरासतीय शोभायात्रा समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री मोहन सिंह रावत गांववासी, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, संस्कृति विभाग के महानिदेशक आशीष चौहान, निदेशक बीना भट्ट, पुलिस अधीक्षक लोकजीत सिंह आदि मौजूद थे।

मुख्यमंत्री तीरथ से मिले महाराज

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बुधवार को कैंट रोड स्थित कैंप कार्यालय में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने भेंट की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने पर्यटन व तीर्थाटन को बढ़ावा देने के साथ ही इन क्षेत्रों में स्थानीय व्यक्तियों की आर्थिकी में कैसे सुधार लाया जा सकता है, इस विषय पर पर्यटन मंत्री से चर्चा की। इसके अलावा आगामी चारधाम यात्रा के संबंध में भी विमर्श किया गया।