Haridwar Kumbh Mela 2021: भव्य कुंभ के लिए पीएम से मिलेगा अखाड़ा परिषद

450

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद कुंभ के भव्य आयोजन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेगा। परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि वह प्रधानमंत्री से अनुरोध करेंगे कि वे राज्य सरकार को निर्देश दें कि इसी के अनुसार समय पर व्यवस्थाएं पूरी करे। कहा कि कुंभ के लिए युद्ध स्तर पर कार्य होना चाहिए था, लेकिन ऐसा नजर नहीं आ रहा। 25 दिसंबर को परिषद सभी अखाड़ों के साथ बैठक करेगा। उसमें भी इस पर मंथन किया जाएगा।

सोमवार को निरंजनी अखाड़े में मीडिया से बातचीत में परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि और राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरि गिरि ने कहा कुंभ के आयोजन के लिए कार्यों की जो प्रगति दिखनी चाहिए थी, वैसा नहीं हो रहा है। इससे आश्रम-अखाड़ों, संत-महात्माओं, स्थानीय निवासियों और व्यापारियों में निराशा का भाव है। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि ने बताया कि रविवार और सोमवार को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के संतों की बैठक हुई। बैठक में कोरोना को लेकर देश के हालात पर भी चर्चा हुई। इस दौरान सामने आया कि देश में संक्रमण के मामले कम हुए हैं। इतना ही नहीं, विभिन्न राज्यों में चुनाव को लेकर राजनीतिक रैलियां भी हो रही हैं। ऐसे में सिर्फ कुंभ को लेकर सवाल क्यों। जब ये सब भीड़ वाले आयोजन हो सकते हैं तो कुंभ क्यों नहीं हो सकता।

यह भी पढ़ें :  New Variant of COVID-19: ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया वेरिएंट मिलने के बाद हाई अलर्ट पर UP सरकार, निगरानी तेज

परिषद के महामंत्री श्रीमहंत हरि गिरी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज में माघ मेले के लिए लाखों संतों को टेंट व कैंप लगाने की अनुमति दी है।

वहां के प्रशासन को निर्देश दिया है कि माघ मेला भव्य रूप से सम्पन्न कराया जाए। उन्होंने सवाल पूछा कि जब जब उत्तर प्रदेश में अनुमति मिल सकती है तो उत्तराखंड में क्यों नहीं। उन्होंने कहा कि हम उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से उम्मीद करते हैं कि वह वर्ष 2010 के कुंभ मेले की तर्ज पर ही व्यवस्थाएं करेंगे।

गौरीशंकर द्वीप सहित अन्य जगहों पर पूर्व की भांति कैंप लगाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि मंगलवार को अखाड़ा परिषद के पदाधिकारी, कुंभ मेलाधिकारी कुंभ की व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे।

शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों की मेला अधिष्ठान के अधिकारियों से वार्ता हुई है। अभी मुझे जानकारी नहीं है उन्होंने क्या मांग रखी है। सरकार कुंभ के आयोजन को लेकर सजग है। श्रद्धालुओं, संत-महात्मा और अखाड़ा परिषद संग इसे भव्य रूप से संपन्न कराया जाएगा।