संदिग्ध हालात में नदी के पास से दो युवकों का शव बरादम, परिजनों ने किया दाह संस्कार

264

धारी में दो युवकों की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। एक साथ दो युवाओं की मौत होने से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली है। मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है। युवकों के परिजनों द्वारा अभी तहरीर भी पुलिस को नहीं दी गई है।

देवनगर के तोक सैकिनजाला निवासी गोकुल पुत्र उमेश चंद्र 24 तथा हरीश पुत्र गोविंद 34 रविवार की दोपहर गांव के समीप बहने वाली नदी में नहाने के लिए गए थे, जब वह देर शाम तक घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उनकी खोजबीन शुरू की। देर शाम दोनों के शव नदी के पास में बरामद हो गए। युवकों की मौत कैसे हुई इसका अभी पता नहीं चल सका है। उनके शरीर में किसी प्रकार के चोट के निशान भी नहीं मिले हैं।

इस खबर को भी पढ़िए फर्जीवाड़ा रोकने के लिए अब 12वीं की प्रयोगात्मक परीक्षाएं दूसरे विद्यालयों में होंगी

ग्रामीणों ने इन मौतों को प्राकृतिक मौत बताते हुए अंतिम संस्कार कर दिया है। उपजिलाधिकारी विवेक राय ने बताया कि घटना की जानकारी केवल सुनी गई है पर किसी भी प्रकार की कोई तहरीर आदि परिजनों के द्वारा नहीं दी गई है। यदि किसी ओर से तहरीर आती है तो जांच कराई जाएगी।

हाईवे पर बाल-बाल बची चार जिंदगी

अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे पर चार जिंदगी बाल-बाल बच गई। पहाड़ी से एकाएक गिरे पत्थर से कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में घायल वाहन चालक का सीएचसी गरमपानी में प्राथमिक उपचार किया गया। रविवार को बुलंदशहर उत्तर प्रदेश निवासी वीरेंद्र कार यूपी14 डीई 6152 से बद्रीनाथ धाम से दर्शनकर वापस लौट रहा था। हाईवे पर दो पांखी के समीप पहुंचा ही था कि एकाएक थुआ की पहाड़ी से पत्थर गिरकर शीशे पर जा लगा।

पत्थर गिरने से चालक वाहन पर संतुलन खो बैठा और पहाड़ी से टकराते हुए वाहन कलमठ में जा घुसा। वाहन में तीन अन्य लोग और सवार थे। आपातकालीन 108 सेवा से चोटिल वाहन चालक को सीएचसी गरमपानी पहुंचाया गया। जहा चिकित्सकों ने उसका प्राथमिक उपचार किया। चिकित्सकों के अनुसार वाहन चालक की हालत खतरे से बाहर है। इस दौरान हाइवे पर कुछ देर जाम भी लगा रहा।

इस खबर को भी पढ़िए अब केवल एमबीबीएस की डिग्री से नहीं कर सकेंगे प्रैक्टिस