farmers tractor parade on Republic Day : हल्द्वानी के सैकड़ों किसान ट्रैक्टर परेड में होंगे शामिल

38

तीन कृषि कानूनों के विरोध में गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में निकलने वाली टै्रक्टर परेड में हल्द्वानी और आसपास के किसान भी शामिल होंगे। विभिन्न क्षेत्रों से किसानों का दल दो दिन पहले ही गाजीपुर बार्डर पहुंच गया था। सोमवार सुबह भी कई किसान कारों के जरिये गाजीपुर के लिए कूच कर गए।

सीतापुरी निवासी तलविंदर सिंह भुल्लर ने फोन पर हुई वार्ता में बताया कि साठ किसानों का दल आठ ट्रैक्टरों से रविवार शाम गाजीपुर बार्डर पहुंच गया था। भुल्लर ने बताया कि नैनीताल जिलेभर से पहुंचे किसान अपने दल के साथ अलग-अलग जगह पर हैं। किसानों की संख्या का सही-सही अनुमान संभव नहीं है, लेकिन अच्छी खासी संख्या में किसान गाजीपुर बार्डर पहुंचे हैं।

यह भी पढ़ें :  Republic Day 2021: राज्यपाल मौर्य ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं, कहा- जनता को आसानी से मिलें मूलभूत सुविधाएं

किसानों ने टेंटों और ट्रैक्टर ट्राली पर रात बिताई। कई किसान अपने साथ बिस्तर भी लेकर पहुंचे हैं। हल्द्वानी के लालपुर नायक, कमलुवागांजा व प्रेमपुर लोसज्ञानी से 100 से अधिक किसान रविवार को ही गाजीपुर पहुंच गए थे। किसान सुखजीत सिंह, बन्नू संद्धू, पलदीप सिंह, सर्वजीत सिंह, सोनी शेखो ने बताया कि किसान विरोधी कानूनों को स्वीकार नहीं किया जाएगा। उदयलालपुर से पलविंदर सिंह, मनप्रीत सिंह, कुलदीप सिंह, नवतेज सिंह, गुरदीप सिंह के नेतृत्व में किसान पांच ट्रैक्टर से आंदोलन में शामिल होने पहुंचे हैं। रामपुर रोड निवासी प्रदीप नेगी, रितेश कुल्याल, गौरव बिष्ट, सुमित कुमार की टोली तिरंगा साथ लेकर कार से गाजीपुर बार्डर पहुंची है।

किसानों के अधिकारों की लड़ाई निर्णायक मोड पर है। हम लोग काफी उत्साहित हैं। सभी ने शांतिपूर्ण तरीके से परेड निकालने को कहा है। हमें उम्मीद है किसानों की जीत होगी।

-सुखजीत सिंह, लालपुर नायक

रविवार देर शाम हम लोगों का दल गाजीपुर बार्डर पहुंच चुका था। यहां मेडिकल कैंप, खाने के लिए लंगर अनवरत जारी हैं। मंगलवार को परेड में शामिल होने के लिए सभी उत्साहित हैं।

-बन्नू संद्धू, प्रेमपुर लोसज्ञानी 

हम लोग पहले भी आंदोलन में शामिल हुए हैं। इस बार आसपास के पांच गांवों से 100 से अधिक किसान आंदोलन में पहुंचे हैं। मंगलवार को जत्थे के साथ दिल्ली कूच करेंगे।

-पलदीप सिंह, कमलुवागांजा

नए कृषि कानूनों को किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। हम लोग रविवार से गाजीपुर बार्डर पर डटे हुए हैं। टै्रक्टर परेड को लेकर किसान काफी उत्साहित हैं।

-तलविंदर सिंह भुल्लर, सीतापुरी 

यह भी पढ़ें :  गणतंत्र दिवस पर इस बार कोई विदेशी अतिथि नहीं, जानिए- इससे पहले कब-कब हुआ ऐसा