ट्रैक्टर ट्रॉली को ओवरटेक करने के दौरान टेंपो पलटा, दो मरे, छह घायल

415

लालपुर में अनियंत्रित टेंपों पलट जाने से उसमें सवार दो यात्रियों की मौत हो गई, पांच यात्री घायल हो गए। घायलों को सीएचसी किच्छा व रुद्रपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया पुलिस ने मृतकों के शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

टेंपो नंबर यूके 06 टीए 4348 सवारी लेकर किच्छा की तरफ आ रहा था। लालपुर में शील चंद्र फैक्ट्री के सामने एक ट्रैक्टर ट्राली को ओवरटेक करते समय टेंपो का चालक नियंत्रण खो बैठा और टेंपो ट्रैक्टर से रगड़ खाने के बाद अनियंत्रित होकर पलट गया। टेंपो के सड़क पर पलटने पर चीख पुकार मच गई। वहां से जा रहे लोगों ने आस पड़ोस की दुकानों पर खड़े लोगों ने टेंपों को सीधा कर घायलों को किसी तरह बाहर निकाला।

 इस खबर को भी पढ़िए :  सिडकुल कर्मचारी की हत्या प्रेमिका ने की थी, पति की संलिप्तता की भी की जा रही जांच

घायल पंकज उसके पिता प्रेम ङ्क्षसह मां तुलसी देवीनिवासी भुजिया भोजीपुरा बरेली, मंगली प्रसाद को सीएचसी किच्छा में भर्ती कराया गया। जबकि गंभीर रूप से घायल ङ्क्षरकी पुत्री प्रेम ङ्क्षसह व जगदेवी पत्नी छेदालाल निवासी रुद्रपुर को वहां से गुजर रहे कांग्रेस नेता सुशील गाबा ने अपने वाहन से ले जाकर रुद्रपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। गंभीर रूप से घायल महिला को अस्पताल में मृत घोषित कर दिया।

उसकी शिनाख्त माया देवी उम्र 55 वर्ष पत्नी मंगल सेन निवासी आजादनगर वार्ड नंबर नौ ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर के रूप में हुई। वहीं उपचार के दौरान रविवार दोपहर घायल मंगली प्रसाद उम्र 40 वर्ष पुत्र रतन लाल निवासी नवाबगंज बरेली ने भी दम तोड़ दिया। पुलिस ने दोनों मृतकों के शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

लगातार दुर्घटनाओं के बाद भी सबक नहीं

किच्छा : लगातार हो रही दुर्घटनाओं के बाद भी कोई सबक लेने को तैयार नहीं है। टेंपो मौत का दूसरा नाम बनता जा रहा है। तीन सवारी पास होने के बाद भी उसमें मानकों को ताक पर रख कर जिस तरह सवारी ढोई जा रही है उसका प्रत्यक्ष प्रमाण सामने है। दुर्घटना के समय टेंपो में दस से अधिक सवारी बैठी थी।

हालात यह है कि टेंपो चालक के साथ तीन लोग आगे और बैठते है, जो सीधे दुर्घटनाओं को निमंत्रण देने के बराबर है पर परिवहन विभाग को इससे कोई लेना देना नहीं है। वह परमिट बांट कर कुंभकर्णीं नींद सो लोगों की ङ्क्षजदगी को दांव पर लगा रहा है। जिसका खामियाजा आम आदमी भुगत रहा है।

 इस खबर को भी पढ़िए : चिकित्सक के घर से लाखों की चोरी