Coronavirus Outbreak: अब ऑनलाइन जानिए कोरोना जांच का परिणाम, सरकार ने की ये नई पहल

20

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए त्रिवेंद्र सरकार ने नई पहल की है। इसके तहत अब कोई भी व्यक्ति कोरोना जांच के लिए सैंपल देने के बाद ऑनलाइन अपनी जांच रिपोर्ट ले सकता है। जांच रिपोर्ट ई-मेल के साथ ही मोबाइल फोन पर भी प्राप्त की जा सकती है। इस सुविधा के मद्देनजर तैयार किए गए ऑनलाइन पोर्टल की मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यह सुविधा शुरू होने से कोराना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण हो पाएगा और संक्रमण से ग्रसित व्यक्ति समय रहते उपचार भी ले सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने कोविड की रोकथाम एवं बचाव कार्यों की समीक्षा भी की। हालिया दिनों में राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं द्वारा कोरोना जांच रिपोर्ट देने में काफी वक्त लगने की बात सामने आ रही थी। इसे देखते हुए ऑनलाइन जांच रिपोर्ट प्राप्त करने की प्रभावी व्यवस्था पर जोर दिया गया।

यह भी पढ़े :   CBI की टीम जम्मू कश्मीर से लापता युवक की तलाश को पहुंची रुड़की, साल 2015 में आया था जियारत करने

फिर एनआइसी के तकनीकी सहयोग से ऑनलाइन पोर्टल तैयार गया। शुक्रवार को सचिवालय से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इसकी शुरुआत की। उन्होंने कहा कि जांच परिणाम समय पर न मिलने पर संभावित मरीज का उपचार देर से शुरू होने की आशंका रहती है। अब घर बैठे कोई भी व्यक्ति कोविड सैंपल की रिपोर्ट को सरलता से देख सकता है और रिपोर्ट पॉजिटिव होने पर तुरंत इलाज ले सकता है।

अधिक सतर्कता बरतने का है यह वक्त

मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि प्रदेश में कोराना पर नियंत्रण हुआ है, लेकिन यह समय और अधिक सतर्कता बरतने का है। लिहाजा, विश्व स्वास्थ्य संगठन और स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन के अनुसार सभी मानकों का अनुपालन सुनिश्चित होना चाहिए।

त्योहारी सीजन में पुलिस की भूमिका अधिक बढ़ जाएगी। इसके लिए पुलिस फोर्स, होमगार्ड, पीआरडी आदि की समुचित व्यवस्था की जाए। साथ ही पर्यटक स्थलों पर भी पर्याप्त फोर्स तैनात की जाए। उन्होंने कहा कि जिन व्यक्तियों के मास्क का उपयोग न करने पर चालान किए जा रहे हैं, उन्हें मास्क जरूर मुहैया कराए जाएं। इसके साथ ही कोविड मरीजों का दिन में कितनी बार चेकअप हो रहा है, इसकी भी नियमित मॉनीटरिंग की जाए।

जागरूकता को हर जगह लगें स्टीकर

कोविड पर नियंत्रण के लिए मुख्यमंत्री ने जनजागरण अभियान में तेजी के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि घरों के दरवाजों, धार्मिक और पर्यटक स्थलों, दफ्तरों, वाहनों में कोविड जागरूकता से संबंधित स्टीकर लगाए जाएं। इसमें जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों, एनजीओ का सहयोग लेने के लिए निर्देशित किया।

ऐसे प्राप्त करें जांच रिपोर्ट

स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी के अनुसार कोविड-19 जांच रिपोर्ट प्राप्त करने को शुरू किए गए ऑनलाइन पोर्टल पर 10 अक्टूबर तक की जांच रिपोर्ट अपलोड की जा रही हैं। शीघ्र ही शेष आंकड़े भी अपलोड किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना जांच की ऑनलाइन रिपोर्ट प्राप्त करने के लिए टेस्ट कराने वाले व्यक्ति को उत्तराखंड के कोविड मैनेजमेंट पोर्टल http://covid19.uk.gov.in पर जाकर टेस्ट के समय दी गई एसआरएफआइडी (स्पेसीमेन रेफरल फॉर्म आइडी) व रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर अंकित करना होगा। इसके उपरांत मोबाइल पर ओटीपी मिलेगा। इसे अंकित करने पर सीधे आइसीएमआर सोर्स से प्राप्त डाटा से जांच रिपोर्ट मिल जाएगी। इसके अलावा ई-मेल पर भी रिपोर्ट प्राप्त की जा सकती है।

यह भी पढ़े :  हौसलों ने भरी उड़ान तो छोटा पड़ गया आसमान