कांग्रेस ने आजादी के साथ देश का बंटवारा भी किया

67

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने कहा कि कांग्रेस देश को आजादी दिलाने की बात कहती है, लेकिन आजादी के साथ ही उसने देश का बंटवारा भी किया। साथ ही उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा। एक देश में एक ही कानून और झंडा होना चाहिए, इसका मंच पूरी तरह समर्थन करता है।

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच उत्तराखंड इकाई के सर्वे चौक स्थित आइआरटीडी ऑडिटोरियम में आयोजित ईद मिलन समारोह में उन्होंने यह बात कही। उन्होंने कहा कि किसी भी धर्म में कट्टर कोई शब्द नहीं है। इसलिए इस शब्द का इस्तेमाल ही गलत है। सभी को अपने धर्म को मानना चाहिए। उन्होंने कहा कि औबेसी जैसे लोगों की धार्मिक भावनाओं को भड़काकर बांटने की कोशिश करते हैं और कहते हैं, वह भारत में किराएदार के तौर पर रह रहे हैं, लेकिन यहां रहने वाला मुसलमान भारत में किराएदार नहीं, बल्कि मालिक है।

इस खबर को भी पढ़िए :  उत्तराखंड में करीब 3000 शिक्षको के हो सकते है तबादले

यह सभी मुसलमान भली भांति समझते हैं। कश्मीर के मसले पर उन्होंने कहा कि पाकिस्तान कहना है कि कश्मीर उनका है, लेकिन हम कहते हैं कि लाहौर भी हमारा है। उन्होंने कहा कि जो लोग यह सोचते हैं कि एक देश में दो झंडे और दो प्रधानमंत्री होंगे, उनके मंसूबे कभी कामयाब नहीं होंगे। इस दौरान उन्होंने सभी मुस्लिम समुदाय के लोगों को देश के विकास में अपना अहम योगदान देने की भी अपील की। कार्यक्रम राज्य मंत्री विनोद शर्मा के साथ ही अन्य लोगों ने अपने विचार व्यक्त करते हुए एकजुट होकर भारत की तरक्की के लिए कार्य करने का आह्वान किया।

कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथियों की ओर से दीप प्रज्ज्वलन के साथ ही कुरान की आयतें पढ़कर की गई। कार्यक्रम का संचालन गुलफाम शेख और रहीस खान के साथ ही सीमा जावेद ने किया। इस दौरान अलीगढ़ के टप्पल की घटना दो मिनट का मौन रखकर मासूम को श्रद्धांजलि दी गई। कार्यक्रम में अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष डॉ. आरके जैन, बिलाल उर रहमान, हसमत अली, नौशाद अली, इंतजार हुसैन सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

इस खबर को भी पढ़िए सीबीएसई कर्मी से ओएलएक्स के जरिये ठगे 45 हजार रुपये