ब्लाइंड मर्डर बना पुलिस के लिए चुनौती

218

24 घंटे बीतने के बाद भी काफी प्रयास के चलते नहर में मिली महिला के शव की शिनाख्त नहीं हो पाई। पुलिस के लिए यह ब्लाइंड मर्डर चुनौती बनता जा रहा है। शव की शिनाख्त के लिए चमोली, मुरादाबाद व हल्द्वानी क्षेत्र से गुम हुई महिलाओं के परिजन भी पहुंचे थे। शिनाख्त के लिए चार पुलिस टीमों को अलग-अलग स्थानों में भेजा है।

शनिवार को सिंचाई नहर में एक महिला का शव मिला था। पहचान छिपाने को शव को जलाने का प्रयास किया गया था। उसका चेहरा व हाथ आग से झुलसा हुआ था। पुलिस ने भी हत्या कहीं और करके शव को नहर में फेंकने की संभावना जताई थी। शव को 72 घंटे तक शिनाख्त के लिए पोस्टमार्टम हाउस में रखा है। हत्या के राज से परदा उठाने के लिए सबसे पहले महिला की शिनाख्त जरूरी है।

 इस खबर को भी पढ़िए : ट्रैक्टर ट्रॉली को ओवरटेक करने के दौरान टेंपो पलटा, दो मरे, छह घायल

पुलिस इस समय उसकी शिनाख्त के प्रयास में जुटी है। रविवार को शव की शिनाख्त के लिए गुम हुई महिलाओं के परिजन भी पहुंचे थे। लेकिन शव गुम हुई महिलाओं का नहीं पाया गया। पुलिस ने जिला ऊधमसिंह नगर व उप्र के इलाकों में शव की शिनाख्त के लिए पुलिस टीम भेजी है। बाग बगीचों में भी महिला की शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है।

नगर के होटलों में भी महिला की शिनाख्त का प्रयास किया गया। कोतवाल रवि सैनी ने बताया कि महिला की शिनाख्त के लिए पुलिस जुटी हुई है। टीमें जगह-जगह फोटो दिखाकर शव की शिनाख्त का प्रयास कर रही है। शिनाख्त के बाद से ही हत्या के राज से परदा उठना शुरू हो जाएगा।

 इस खबर को भी पढ़िए :  सिडकुल कर्मचारी की हत्या प्रेमिका ने की थी, पति की संलिप्तता की भी की जा रही जांच