सीबीआइ जांच करेगी धीरज हत्याकांड की

192

पुलिस हिरासत में हुई मौत की जांच सीबीसीआइडी करेगी। इसके लिए एसएसपी ऊधमसिंह नगर ने संस्तुति रिपोर्ट डीआइजी कुमाऊं मंडल को भेजने की तैयारी कर रहे हैं। माना जा रहा है कि डीआइजी की संस्तुति के बाद जांच सीबीसीआइडी को सौंपी जाएगी।

बुधवार को हिरासत में लिए गए सितारगंज, सिसौना निवासी धीरज की गुरुवार को पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी। इस मामले में परिजनों और नाते रिश्तेदार ने पुलिस पर हत्या कर शव हवालात में लटकाने का भी आरोप लगाया था। साथ ही पुलिस अधिकारियों से मामले की निष्पक्ष जांच को सीबीसीआइडी जांच की मांग की थी। मृतक के परिजनों की मांग पर अब पुलिस धीरज की मौत की जांच सीबीसीआइडी को सौंपने की तैयारी कर रही है।

 यह भी पढ़े :  बैंक में कैश जमा करने आए किसान से एक लाख रुपये लूटकर बदमाश फरार

इससे पहले पुलिस परिजनों की तहरीर के आधार पर पहले केस दर्ज करेगी। इसके बाद एसएसपी बरिंदरजीत सिंह सीबीसीआइडी जांच के लिए डीआइजी कुमाऊं को रिपोर्ट भेजेंगे। डीआइजी कुमाऊं की संस्तुति के बाद पुलिस हिरासत में धीरज की मौत की विवेचना स्वतंत्र एजेंसी यानी सीबीसीआइडी करेगी।

मानवाधिकार आयोग को भेजी रिपोर्ट

रुद्रपुर : सितारगंज के सिडकुल चौकी में हिरासत में हुई मौत मामले में पुलिस ने मानवाधिकार आयोग को रिपोर्ट भेज दी है। एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने बताया कि पूरे घटनाक्रम की रिपोर्ट तैयार कर मानवाधिकार आयोग को शुक्रवार को रिपोर्ट भेज दी गई है।

मृतक धीरज के परिजनों की तहरीर के आधार पर केस दर्ज किया जाएगा। इसके बाद परिजनों की मांग पर डीआइजी कुमाऊं मंडल की संस्तुति के बाद विवेचना स्वतंत्र एजेंसी से कराई जाएगी।

 यह भी पढ़े :   हिरासत में छात्र की मौत मामले में सिडकुल चौकी प्रभारी समेत स्टाफ पर हत्या का मामला दर्ज