बार खुला तो जनता के साथ आंदोलन करेगा यूकेडी

191

लोअर मालरोड में शराब बार खोले जाने का उत्तराखंड क्रांति दल और इंदिरा कालोनी के ग्रामीणों ने विरोध किया है। उन्होंने जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में सरकार पर राजस्व के लिए जनता के स्वास्थ्य की बलि देने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रदेश सरकार पहाड़ में रोजगार आधारित उद्योग तो खोल नहीं रही है, लेकिन शराब बेचने के नए-नए तरीके इजाद कर रही है।

यूकेडी कार्यकर्ताओं ने कहा कि इस मामले में जनता के साथ मिलकर आंदोलन शुरू करेंगे। ज्ञापन में कार्यकर्ताओं ने कहा कि लोअर मालरोड में एसएसजे परिसर जैसे उच्च शैक्षणिक संस्थान के अलावा अन्य संस्थान भी हैं और आसपास आबादी वाला क्षेत्र है। जिसमें महिलाओं और बालिकाओं का हर समय आना जाना लगा रहता है। ज्ञापन देने वालों में ब्रह्मानंद डालाकोटी, दिनेश जोशी, हरीश जोशी, आनंदी महरा, गिरीश नाथ गोस्वामी, दीवान बनौला, शिवराज बनौला आदि शामिल हैं।

 इस खबर को भी पढ़िए : दुष्कर्म के आरोपी पर दोष सिद्ध

इधर इंदिरा कालोनी, खत्याड़ी गांव की महिलाओं ने भी जनता दरबार में पहुंचकर सीडीओ को ज्ञापन देकर लोअर मालरोड में बार खोले जाने का विरोध किया है। धर्मनिरपेक्ष मंच के विनय किरौला ने कहा कि बार खुलने से महिलाओं और आसपास रहने वाले परिवारों को परेशानी उठानी पड़ेगी।

देवेश जोशी ने कहा कि शैक्षणिक संस्थान के आसपास बार खुलने से माहौल खराब होगा। ज्ञापन देने वालों में कैप्टन मोहन सिंह अल्मियां, कैप्टन आरसी पंत, डीएस जलाल, प्रधान हरीश लटवाल, सभासद रेखा अल्मियां, सीमा नयाल, कलावती देवी, प्रीति अल्मियां, भावना कनवाल आदि शामिल थे।

 इस खबर को भी पढ़िए : शार्टकट मारने वाले विक्रम चालकों के लाइसेंस होेंगे निरस्त