कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के दृष्टिगत वादकारियों को आयोग कार्यालय में उपस्थित पर लगी पाबंदी

35

कोविड-19 के दृष्टिगत उत्तराखण्ड मानवाधिकार आयोग, देहरादून में पूर्व से निर्धारित प्रतिवादों की अंतिम सुनवाई दिनांक 31 अक्टूबर, 2020 तक नहीं होगी। अतः वादकारियों को व्यक्तिगत रूप से आयोग कार्यालय में उपस्थित होने की आवश्यकता नही है। वादकारी अपना प्रतिउत्तर डाक/ई-मेल/फैक्स द्वारा भेज सकते हैं।

यह जानकारी प्रशासनिक अधिकारी, उत्तराखण्ड मानवाधिकार आयोग श्री हरीश चन्द्र पाण्डेय द्वारा दी गई।
सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग।

यह भी पढ़े :    मुख्य सचिव ने सचिवालय में कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की