बरसात में खतरनाक हुआ बदरीनाथ हाईवे, जगह-जगह पहाड़ों से गिर रही चट्टान, तस्वीरें

729

इन दिनों बरसात में बदरीनाथ हाईवे बेहद खतरनाक बना हुआ है। यहां जगह-जगह पहाड़ों से चट्टान गिर रही है। जिससे यात्रियों को जान-माल का खतरा बना हुआ है।

बदरीनाथ हाईवे पीपलकोटी से करीब दो किलोमीटर दूर जोशीमठ की ओर चट्टान से मलबा गिरने से देर रात से बंद है।

यह भी पढ़े :   केंद्र और राज्य सरकार पर कांग्रेस ने साधा निशाना, कहा- जनता के मुद्दों पर संघर्ष रहेगा जारी

शनिवार तड़के करीब 06.30 बजे ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर उमा माहेश्वर आश्रम (कर्णप्रयाग) के पास पहाड़ी से भारी चट्टान सड़क पर आ गई।

जिससे हाईवे के दोनों तरफ कई वाहन फंस गए। इस दौरान डेढ़ घंटे तक हाईवे पर वाहनों की आवाजाही ठप रही।

सूचना पर आलवेदर रोड परियोजना की जेसीबी मशीन मौके पर पहुंची और करीब 08:00 बजे मलबा हटाकर वाहनों की आवाजाही शुरू की गई।

बदरीनाथ हाईवे पर इन दिनों कर्णप्रयाग के आसपास सड़क चौड़ीकरण का कार्य किया जा रहा है। कार्य के दौरान सड़क के किनारे पहाड़ी खोदने से बारिश में ऊपरी भाग से चट्टानें धंस रही हैं।

वहीं श्रीनगर और आसपास के क्षेत्रों में रात में तेज बारिश हुई है। बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग सकनिधार के समीप भी अवरुद्ध हो गया है।

कर्णप्रयाग में बदरीनाथ हाईवे पर उमा माहेश्वर आश्रम के पास मलबे को हटाती जेसीबी मशीन।

इन दिनों अक्सर बदरीनाथ हाईवे पर लैंड स्लाइड हो रहा है। जिससे कई घंटों के लिए हाईवे बंद हो जा रहा है।

बरसात में यहां हर साल ऐसे ही हालात रहते हैं। यहां यात्रियोंं को जान हथेली पर रखकर रास्ता तय करना पड़ता है।

एक ओर दरकते हुए पहाड़ तो दूसरी ओर गहरी खाई, लोगों को बरसात में जान जोखिम में डालकर सफर करना पड़ता है।

यह भी पढ़े :    उत्तराखंड में इन ‘घुसपैठियों’ के खतरे से सहमे जंगल, जैवविविधता के लिए है खतरनाक