हरिद्वार में स्व. अटल बिहारी की अस्थि कलश यात्रा, हाईवे पर वाहन प्रतिबंधित, जानिये रविवार का रूट प्लान

1731

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की अस्थियां रविवार यानि 19 अगस्त की सुबह 11 बजे हरिद्वार के हर की पैड़ी में विसर्जित की जाएंगी। कुछ बड़े नेताओं के आज रात ही हरिद्वार पहुंचने की उम्मीद है। इस दौरान ज्यादा भीड़ होने की आशंका के चलते तमाम इंतज़ाम किए जा रहे हैं

भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी जी की अंत्येष्टि के बाद उनकी अस्थियों को हरिद्वार हरकी पैड़ी में विसर्जित किया जाएगा। 19 अगस्त को सरकार और संगठन के तमाम बड़े नेता उनकी अस्थियां लेकर हरिद्वार पहुंचेंगे। जिसको लेकर तमाम व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह जी , संगठन मंत्री श्री शिव प्रकाश जी, महामंत्री श्री संगठन संजय कुमार जी और सीएम श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के साथ सूबे के तमाम मंत्री और बड़े नेता मौजूद रहेंगे।

इतना ही नहीं शासन को दिल्ली में हुई भीड़ को देखकर यही लग रहा है कि हरिद्वार में अटल जी के अस्थि विसर्जन पर हजारों लोगों की भीड़ एकत्र हो सकती है। लिहाजा हरिद्वार में पूरी व्यवस्था बनाई जा रही है।

हरिद्वार में दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा के दौरान लागू किया जाने वाला यातायात प्लान जारी कर दिया गया है। रविवार सुबह से कार्यक्रम खत्म होने तक देहरादून-हरिद्वार के बीच भारी वाहन नहीं दौड़ेंगे।

कलश यात्रा के दौरान दूधाधारी से खड़खड़ी क्षेत्र तक साइकिल रिक्शा, ऑटो रिक्शा, विक्रम, चौपहिया वाहन पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेंगे।

दोपहिया वाहन पर भीड़ के लिहाज से व्यवस्था लागू होगी। रविवार को देहरादून-ऋषिकेश की तरफ जाने वाले आमजन को दिक्कत उठानी पड़ सकती है।

स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के परिजन जौलीग्रांट से अस्थि कलश लेकर वाया सड़क मार्ग से शांतिकुंज पहुंचेंगे। शांतिकुंज से कलश यात्रा शुरु होकर सीधे हरकी पैड़ी पहुंचेगी। कलश यात्रा में जनसैलाब के उमड़ने के मद्देनजर सुबह सात बजे से ही हाईवे पर भारी वाहन प्रतिबंधित कर दिए जाएंगे। कलश यात्रा जब हरकी पैड़ी की तरफ रवाना होगी तब हाईवे की रफ्तार थमना भी तय है।

दूधाधारी चौक से कलश यात्रा भूपतवाला, खड़खड़ी, भीमगोडा होते हुए हरकी पैड़ी पहुंचेगी। केवल कुछ ही वीवीआईपी के वाहन हरकी पैड़ी तक आएंगे। सीओ यातायात वीरेंद्र डबराल ने बताया कि इस पूरे क्षेत्र को जीरो जोन क्षेत्र घोषित कर दिया गया है।

रिक्शा, ऑटो रिक्शा, विक्रम, ई रिक्शा या चौपहिया वाहन अस्थि कलश यात्रा के दौरान नहीं चलेंगे। बताया कि स्थानीय नागरिक या यात्री अपने चौपहिया वाहन इस मार्ग पर पार्क न करें, अन्यथा कार्रवाई होना तय है। भीड़ के दबाव को देखते हुए ही दोपहिया वाहन को अनुमति दी जाएगी।

अस्थि कलश यात्रा में शामिल होने आ रहे कार्यकर्ताओं और आमजन के हल्के-भारी वाहन पंतद्वीप पार्किंग में पार्क होंगे। सीओ ने बताया कि पंतद्वीप से वाहन आगे नहीं जाने दिए जाएंगे।

यहां से जा सकते है दून
अस्थि कलश यात्रा के हाईवे पर रहने के दौरान देहरादून-ऋषिकेश की तरफ जाने वाले हल्के वाहन पुराना एआरटीओ चौक से सप्तऋषि क्षेत्र की तरफ से होते हुए जा सकते हैं। जब हाईवे से कलश यात्रा दूधाधारी चौक के अंदर प्रवेश कर जाएंगी तब हाईवे पर व्यवस्था सामान्य कर दी जाएगी।

कल वीआईपी भ्रमण कार्यक्रम के दौरान डायवर्ट प्लान निम्नवत रहेगा ।
• वीआईपी कार्यक्रम के दौरान जौलीग्राण्ट एयरपोर्ट से हरिद्वार तक सम्पूर्ण मार्ग जीरो जोन रहेगा।

• वीआईपी फ्लीट के जौलीग्राण्ट से प्रस्थान करने से पूर्व ऋषिकेश से डोईवाला की ओऱ आने वाले समस्त वाहनों को रानीपोखरी थाने के पास बैरियर लगाकर रोक दिया जायेगा व देहरादून/डोईवाला कस्वा से ऋषिकेश की ओर जाने वाले समस्त वाहनों को भानियावाला तिराहा पर बैरियर लगाकर रोक दिया जायेगा।

• ऋषिकेश से रायवाला की ओऱ जाने वाले समस्त वाहनों को नेपाली तिराहे पर बैरियर लगाकर रोक दिया जायेगा।

• वीआईपी फ्लीट के जौलीग्राण्ट से रायवाला तक के सम्पर्क मार्ग से मुख्य मार्ग में आने वाले समस्त वाहनों को प्वांईट ड्यटी द्वारा रोक दिया जायेगा।

• उक्त कार्यक्रम के दृष्टिगत वीआईपी रुट में प्रातः समय 06.00 बजे कार्यक्रम समाप्ति तक भारी वाहनों की आवाजाही पूर्णतःप्रतिबन्धित रहेगी।

• उक्त कार्यक्रम के दृष्टिगत उपरोक्त रुट पर निकलने वाली अति आवश्यक सेवा वाले वाहनों को जाने दिया जायेगा।

नोटः-अतःआमजनमानस से अपील है कि असुविधा से बचने के लिये चौपहिया वाहन का प्रयोग कम से कम करते हुऐ दौपहिया वाहनों का प्रयोग करें तथा यातायात व्यवस्था को सुचारु रुप से चलाने हेतु यातायात पुलिस ,जनपद पुलिस को अपना सहयोग प्रदान करें ।