Assam Chunav 2021 Voting : असम में अंतिम चरण का मतदान शुरू, 40 सीटों पर डाले जा रहे वोट

14

असम में आज तीसरे और अंतिम चरण के लिए वोटिंग शुरू हो गई है। 126 सीटों वाली विधानसभा की 40 सीटों पर मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। यह चरण भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता हिमंत बिस्वा सरमा सहित राज्य के 12 जिलों के 337 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेगा। इस बार चुनाव में भाजपा और कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन के बीच मुकाबला है। भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन में एजीपी और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) शामिल हैं।

यह भी पढ़ें :   SBI ने ग्राहकों को दिया झटका, Home Loan पर बढ़ायी ब्याज दर, प्रोसेसिंग फीस पर छूट भी खत्म की

तीसरे चरण में सरमा के अलावा, धरमपुर से मंत्री चंद्र मोहन पटौरी, गौहाटी पूर्व से शिक्षा मंत्री सिद्धार्थ भट्टाचार्य, और पतराचौकी से भाजपा के राज्य प्रमुख रणजीत कुमार दास भी अंतिम चरण में मैदान में हैं। बोंगईगांव से असोम गण परिषद (एजीपी) के उम्मीदवार फणीभूषण चौधरी, कोकराझार-पूर्व से बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) की प्रमिला रानी ब्रह्मा, सिदली से चंदन ब्रह्मा, और बारामा से निर्दलीय उम्मीदवार और लोकसभा सांसद नाबा हीरा कुमार मैदान में है।

इससे पहले चुनाव आयोग ने रविवार को बोडो पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ) की तमुलपुर विधानसभा सीट पर चुनाव स्थगित करने की याचिका खारिज कर दी थी। बीपीएफ ने यह याचिका इसलिए दाखिल की थी क्योंकि इस सीट से उसके प्रत्याशी रांगजा खुंगुर बासुमतारी भाजपा में शामिल हो गए थे। इस सीट पर मंगलवार को मतदान होना है। आयोग ने कहा कि इस समय चुनाव तभी स्थगित किया जा सकता है जब मान्यता प्राप्त राजनीति दल के प्रत्याशी की मौत हो जाए।चुनाव आयोग ने कहा कि उसे इस आशय का कोई दस्तावेजी साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराया गया है जिससे पता चलता हो कि बासुमतारी भाजपा में शामिल हो गए हैं या उन्हें बीपीएफ से निकाल दिया गया है।

असम विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में अंतिम मतदान प्रतिशत 80.96 फीसद रहा जो पहले चरण के मतदान प्रतिशत 79.93 से 1.03 प्रतिशत अधिक है। गुरुवार को मतदान खत्म होने के बाद मत प्रतिशत 77.21 फीसद बताया गया था, लेकिन आंकड़ों को अपडेट करने के बाद इसे बढ़ाकर 80.96 फीसद कर दिया गया है। गुरुवार को दूसरे चरण में राज्य की 39 विधानसभा सीटों के लिए मतदान हुआ था।