वृद्धा की हत्या में बहू और नाती गिरफ्तार

353

जमीन के विवाद में 70 वर्षीय वृद्धा को मौत के घाट उतारने के मामले में पुलिस ने हत्या आरोपी बहू और पोते को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी बहू को जेल भेज दिया और पोते को किशोर न्यायालय में पेश किया। रविवार को पुलिस क्षेत्राधिकारी खटीमा कमला बिष्ट ने जमीन के विवाद में 70 वर्षीय गुरदीप कौर पत्नी स्व. छिंदर सिंह की हत्या का खुलासा किया। सीओ बिष्ट ने बताया कि नौगजा पूरनगढ़ निवासी गुरदीप कौर चार मई की शाम को अपनी एक बीघा जमीन का सौदा करने ग्राम कल्याणपुर नौगजा अपने रिश्तेदार के यहां गई थी।

इसकी भनक जमीन पर नजर रखे उसके बड़े पुत्र सिसईखेड़ा निवासी अवतार सिंह की पत्नी चरणजीत कौर को लगी। वह अपने किशोर पुत्र के साथ बिना नंबर की बाइक से रिश्तेदार के घर जा धमकी। किशोर और उसकी मां ने वृद्धा पर हमला बोल दिया। सिर पर लाठी लगने से गुरदीप कौर मौके पर ही गिर गई। हमलावर बाइक से फरार हो गए। गुरदीप कौर की अस्पताल में इलाज से पहले ही पूर्व मौत हो गई।

 इस खबर को भी पढ़िए :  261 विद्यार्थियों की परीक्षा छूटने पर हंगामा, छात्रा बेहोश

मृतका की पुत्रवधू बिंदर कौर की तहरीर पर पुलिस ने मृतका के बड़े पुत्र अवतार सिंह, उसकी पत्नी चरणजीत कौर, पुत्री पूजा कौर पत्नी जगीर सिंह और 16 वर्षीय किशोर के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 201 के तहत मुकदमा दर्ज किया था।

रविवार शाम सूचना पर ग्राम कोदाखेड़ा से बाहर जाने की तैयारी कर रही चरणजीत कौर और किशोर पुत्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की निशानदेही पर नौगजा नहर की झाड़ियों में फेंके गए लाठी-डंडे और बिना नंबर की बाइक भी बरामद कर ली।

थानाध्यक्ष नरेश पाल सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर नामजद अन्य आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। अब तक की विवेचना में किशोर पौत्र और उसकी मां ही दोषी मिले हैं।

टीम में थानाध्यक्ष सिंह, एसआई अविनाश कुमार, एसआई ललित चौधरी, कांस्टेबल दीवान प्रसाद, रविंद्र बर्मन, रोहित गोस्वामी, योगेंद्र दत्त, गीता आर्या आदि थे।

 इस खबर को भी पढ़िए :  बार खुला तो जनता के साथ आंदोलन करेगा यूकेडी