शराब पीने के बादबंदर ने किया हंगामा

476

भीमताल में एक बंदर की अजीबो गरीब कारस्‍तानी से रहगीर परेशान रहे। दरअसल बाई पास मार्ग पर एक बंदर ने कहीं शराब पी ली और नशा चढ़ा तो उसने खूब हंगामा काटा। तीन लोगों को काटने से राहगीर दहशत में रहे। इधर सूचना पर वन विभाग ने बंदर को पकड़कर कर रेस्क्यू सेंटर हल्द्वानी भेज दिया। वाकिया होली के दिन का है।

एक बंदर बाई पास मार्ग पर एक मजदूर की झोपड़ी में घुस गया और उसने वहां शराब की बोतल खोलकर पी लिया। फिर क्या था नशे में वह इधर उधर भागने और चिल्लाने लगा। इस बीच उसने बाई पास निवासी अनुज, सुंदर रौतला और शांति भट्ट को काटकर बुरी तरह से जख्मी कर दिया। इधर बाद में लोंगों ने बंदर को एक कार में बंद कर दिया।

यह भी पढ़िए : महारानी माला राज्यलक्ष्मी शाह टिहरी के सियासी फार्मूले पर खरी उतरीं

स्थानीय लोंगों ने इसकी जानकारी वन क्षेत्राधिकारी मुकुल शर्मा को जानकारी दी गई। सूचना मिलने पर फारेस्टर किशन चंद्र भगत, जीवन रौतेला और अर्जुन वाहन लेकर बंदर को पकडऩे पहुंचे पर बंदर ने वन विभाग के कर्मचारियों को काफी परेशान किया। इसी बीच बंदर ने वन विभाग के कर्मचारी अर्जुन को भी काट लिया। बाद में पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद उसे पिंजरे में पकड़कर हल्द्वानी भेजा गया।

अस्‍पताल में नहीं मिला एंटी रैबीज इंजेक्शन

बंदर के काटने के बाद जब लोग अस्पताल पहुंचे तब वहां एंटी रेबीज के इंजेक्शन उपलब्ध नहीं होने के कारण लोंगों को बाजार से महंगे इंजेक्शन को खरीद कर लगवाना पड़ा। अस्पताल प्रबंधन के मुताबिक काफी समय से एंटी रेबीज इंजेक्शन की सप्लाई अस्पतालों को नहीं हो रही है।

यह भी पढ़िए : लोकसभा चुनाव: पौड़ी में भाजपा ने जताया खंडूड़ी के शिष्य पर भरोसा